आज के समय में युवा लोग प्‍यार के नाम पर कुछ और ही करने लगते हैं और प्‍यार जैसे पवित्र रिश्‍ते को भी गंदा कर देते हें। दरअसल ये हम नहीं बल्कि आप भी कहेंगे अक्‍सर आपने देखा होगा कि प्रेमी जोड़े एक दुसरे से मिलने व समय बिताने के लिए पार्क, मंदिर या फिर किसी भी जगह पर जाते हैं। लेकिन हाल ही में जो मामला सामने आया है कि वो पटियाला का है यहां एक प्रेमी अपनी ही प्रेमिका से मिलने के लिए पटियाला से लुधियाना पहुंच गया और वहां जो उसके साथ हुआ वो वाकई में बेहद ही भयानक था।

जी हां आपको बता दें कि सबसे पहले तो उस युवक को गांव वालों ने पकड़ लिया और फिर जमकर धुनाई भी कर दी लेकिन प्‍यार का नशा कुछ ऐसा होता है कि जब सिर चढ़कर बोलता है तो काहें की पुलिस और काहें की भीड़। जी हां यहां भी कुछ ऐसा ही किया इस युवक ने लोगों से मार खाने के बाद भी प्रेमी जोड़ा शादी की जिद्द पर अड़ा रहा। इस घटना की सूचना पुलिस को मिली तो पुलिस ने थाने में ही दोनों की शादी करवा दी। लड़की की डोली थाने से ही विदा हुई। जानकारी के अनुसार बता दें कि पटियाला के एक गांव का युवक अपने साथियों के साथ प्रेमिका को मिलने के लिए लुधियाना के एक गांव में पहुंचा।

बता दें कि इन दोनों की मुलाकात गांव के बाहर एक धार्मिक स्थान पर अकेले में हुई जिसके दौरान इनके परिवार वालों ने इन्‍हें देख लिया और फिर शोर मचाना शुरू कर दिए। फिर क्‍या था इसके बाद गांव वालों ने दोनों को पकड़ लिया और प्रेमी की जमकर पिटाई की। जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि लुधियाना के माछीवाड़ा थाने का है युवक को पीटने की खबर ये सामने आई जैसे ही पुलिस दोनों को थाने ले आई।

इस दौरान युवती के परिजन भी थाने पहुंचे उसके बाद सुबह से लेकर शाम तक वहां उस लड़की को परिवार वाले भी मनाने की काफी कोशिश कि वो उस लड़के को छोड़कर घर लौट चले, लेकिन वो नहीं मानी और शादी करने पर अड़ी रही। युवक-युवती के बालिग होने के कारण पुलिस भी दबाव न बना सकी।

वहीं आपको बता काफी देर तक समझाने के बाद भी जब प्रेमी जोड़ा अपनी बात पर अड़ा रहा तो थाने में मौजूद पुलिस वालों ने प्रेमी और उस लड़की की उसके परिवार वालों की की मौजूदगी में लड़की के हाथ में लाल चूड़ा डालकर विवाह कर लिया। जिसके बाद लड़की के परिवार वाले नाराज हो गए उन्‍हें ये बात बिल्‍कुल नहीं पसंद आई और उन्होंने थाने में लिखित रूप में राजीनामा किया कि आज के बाद उनका अपनी लड़की से कोई संबंध नहीं है और न ही वह कभी अपने गांव आ सकेगी।

जिसके बाद पुलिस ने युवक के घरवालों को बुलाया लेकिन वहा से भी कोई नहीं आया। अंतत: पुलिस वालों ने ही नव-विवाहित जोड़े की डोली थाने से भेज दी गई। पुलिस अधिकारी ने बताया कि कानूनी प्रक्रिया पूरी कर लड़की को गांव की पंचायत की सर्वसम्मति से लड़के के साथ भेज दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here