जैसा कि सभी जानते है मुरथल में “गरम धरम” ढाबा, बॉलीवुड के लेजेंडेरी सूपर्स्टार धर्मेंदर का ढाबा है। 23 फरवरी को धूम धाम से जिस ढाबे का उद्घाटन करने के लिए धरमेंदर मुरथल आये थे, सबको बहुत उम्मीद थी की ये ढाबा मुरथल की शान को बढ़ाएगा, लोगो ने ये तक कहा की अब “सुखदेव” के दिन गए..

मगर अफ़सोस, ये ढाबा मुरथल में लोगो को एक बार आने के लिए आकर्षित तो ज़रूर करता है परन्तु ये लोगो का दिल नहीं लुभा पाया. तकरीबन एक महीना पूरा होने वाला है इसे खुले और यहाँ अभी भी पहली बार आने वाले ग्राहकों की कमी नहीं है। पर जो लोग यहाँ आने से पहले इंटरनेट व् लोगो की राय लेते हैं, उन्हें बस खराब आलोचनाएं एवं गालियां सुनने को मिल रहीं हैं “गरम धरम” के बारे में।

भले हीं यहाँ ग्राहकों को लुभाने के लिए साजसजावट पर ख़ास तौर पे ध्यान दिया गया है, जगह जगह धर्मेंदर की ब्लॉक्बस्टर फ़िल्मों के डाइयलोग व पोस्टर लोगों को बहुत पसंद आयें… मगर जो लोग स्वादिष्ट खाने और फ़र्स्ट क्लास सर्विस का मज़ा लेने यहाँ आए उन्हें यह ढाबा बिलकुल भी ब्लॉक्बस्टर स्टाइल नहीं लगा…

मुरथल अपने ढाबे और देसी स्वाद के लिए देश भर में मशहूर हैं, यहाँ ख़ास मौक़ों पर ही नहीं, बल्कि आम दीनो में भी स्वादिष्ट खाने का आनंद लेने के लिए हज़ारों लोग यहाँ के ढाबों पे आते हैं..

आईये देखे क्या कह रहें हैं लोग,

सबसे बड़ी नाराज़गी यहाँ की सर्विस को ले कर है।

ख़राब सर्विस की वजह है, यहाँ के स्टाफ़ का व्यवहार, अमरीक सुखदेव के सालों के तजुरबे को अभी धर्मेंदर की कम्पनी समझनहीं पायी हैं!

यहाँ के वातावरण को ले कर भी शिकायतें हैं, जैसे की झूठे बरतनो के पटकने की आवाज़ें।

एक होटेल या रेस्ट्रॉंट की जान दो चीज़ों में होती है, खाने का स्वाद ओर स्टाफ़ का व्यवहार!!

लोगों ने यहाँ खाने को पैसों की बर्बादी बताया!

ठंडे और बेस्वाद खाने से जहाँ लोगों का मन ख़राब हुआ, वहीं मुरथल से जुड़ी लोगो की अच्छी यादें भी ख़राब हुईं!

लगता है, अभी बॉलीवुड के सूपर्स्टार धर्मेंदर जी को और उनकी कम्पनी को मुरथल का ज़ायक़ा समझने ओर हरियाणा की मेहमान नवाजी का गुर सिखने में समय लगेगा!!

आप भी हमें अपने अनुभवों के बारे में ज़रूर बतायें!! धन्यवाद!!

-निशांत अरोरा
Ye Hai Bindass Haryana

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here