Connect with us

विशेष

अभी-अभी : बधाई हो देशवासियों…भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तानी लड़ाकू विमान को मा’र गिराया

Published

on

पाकिस्तान ने दुस्साहस दिखाते हुए भारत में अपना विमान भेजा। भारतीय वायुसेना ने भी उसका माकूल जवाब देते हुए पाकिस्तानी विमान को खदेड़ दिया। भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के F-16 विमान को मा’र गिराया है।  भारत पाकिस्तान के बीच युद्ध की आशंका बन रही है। इसके मद्देनजर श्रीनगर, पठानकोट लेह एयरपोर्ट हाई अलर्ट पर रखें गए हैं। विमानों की आवाजाही पर रोक लगा दी है। इससे पहले पाकिस्तानी विमान ने भारतीय वायुसीमा का उल्लंघन किया है।

जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में ये विमान घुस आए थे। लेकिन भारत के कड़े जवाब के बाद ये विमान वापस पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चले गए।इससे पहले भारतीय वायुसेना के नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार बालाकोट में आतं’की ठिकानों को नष्‍ट करने की खबर पूरी दुनिया की सुर्खियां बनी हैं। अमेरिकी अखबार द न्यूयॉर्क टाइम्स ने कहा कि 5 दशक बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर किया ह’मला। ‘द वाशिंगटन पोस्‍ट’ ने कहा कि भारत ने पाकिस्‍तान में घुसकर आतं’की ठिकाने तबाह किए। इस कारण पर’माणु क्षमता संपन्‍न दोनों देशों के बीच भारी तनाव उत्‍पन्‍न हो गया है। ‘द वॉल स्ट्रीट जर्नल’ ने कहा कि भारत ने पाकिस्तान पर ब’मबारी कर पुलवामा हम’ले का बदला लिया।

चीन के अखबार ‘चाइना डेली’ ने कहा कि भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर ब’म बरसाए। इसी तरह रूस के रशिया टुडे ने कहा कि भारत ने पाकिस्तान में आ’तंकी अड्डों को ब’मबारी से तबाह किया। ब्रिटेन के अखबार द गार्जियन ने लिखा कि भारत ने आ’तंकी हमला रोकने के लिए पाकिस्तान पर ब’मबारी की। इसी तरह द ऑस्ट्रेलियन ने लिखा कि पाकिस्तान पर भारत की ब’मबारी के बाद दोनों देशों में तनाव बढ़ गया है।

हवाई हमले में जैश-ए-मोहम्मद का पाकिस्तान स्थित सबसे बड़ा ठिकाना नष्ट : उल्‍लेखनीय है कि भारत ने मंगलवार को पौ फटने से पहले बड़ी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान स्थित आ’तंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े शिविर को तबाह कर दिया जिसमें लगभग 350 आतं’कवादी और उनके प्रशिक्षक मारे गए। पाकिस्तान ने पुलवामा आतं’की हम’ले के बाद इन आतं’कवादियों को उनकी सुरक्षा के लिए इस शिविर में भेजा था। भारतीय वायुसेना का यह हम’ला अत्यंत त्वरित और सटीक था। सूत्रों ने कहा कि हम’ला किसी सैन्य ठिकाने पर नहीं, केवल आतं’की ठिकाने पर किया गया और इसे ‘‘हम’लों को रोकने’’ के उद्देश्य से ‘‘ऐहतियात’’ के तौर पर अंजाम दिया गया। उन्होंने कहा कि यह ठिकाना जंगल में एक पहाड़ी पर स्थित था और पांच सितारा रिजॉर्ट शैली में बना था। इसके चलते यह ‘‘आसान निशाना’’ बन गया तथा आतं’कवादियों को नींद में ही मौ’त के आगोश में सुला दिया गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हम’ले के बाद अपनी पहली टिप्पणी में राजस्थान के चुरू में एक जनसभा में कहा, ‘‘मैं देश के लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि देश सुरक्षित हाथों में है। देश से ऊपर कुछ भी नहीं है।’’ उन्होंने हालांकि हमले का सीधा जिक्र नहीं किया और न कोई ब्योरा दिया। ठोस खुफिया जानकारी के आधार पर भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए हवाई हम’लों का ब्योरा देते हुए विदेश सचिव विजय गोखले ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि ठोस खुफिया जानकारी मिली थी कि जैश-ए-मोहम्मद पुलवामा ह’मले के बाद भारत में अन्य आत्म’घाती हम’लों की योजना बना रहा है। बारह दिन पहले पुलवामा ह’मले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *