Connect with us

विशेष

अभी-अभी : भारतीय वायुसेना ने जैश के शीर्ष कमांडर को भी मार गिराया : विदेश सचिव

Published

on

पुलवामा आ’तंकी हमले के बाद पाकिस्तान को सबक सिखाने की मांग कर रहे भारत के लोगों को देश की वायुसेना ने बड़ा तोहफा दिया। दरअसल, भारत ने मंगलवार तड़के पाकिस्तान के भीतर हवाई हमले कर कई आ’तंकवादी शिविरों को निशाना बनाया है। इस कार्रवाई में 300 से ज्यादा आ’तंकियों के ढेर होने की संभावना है। इसे भारत का दूसरा सर्जिकल स्ट्राइक कहा जा रहा है। इससे पहले 2016 में उड़ी हमले के बाद भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक कर पाकिस्तान को करारी चोट दी थी। आइए जानते हैं भारतीय वायुसेना के इस ऑपरेशन के बारे में।

विदेश सचिव की प्रेस कॉन्फ्रेंस में विजय गोखले ने कहा कि 14 फरवरी को पाकिस्तान स्थित आ’तंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा में आ’तंकी हमला किया था, जिसमें हमारे 40 जवान शहीद हुए थे। इससे पहले पठानकोट में भी जैश की तरफ से आ’तंकी हमला किया गया था। पाकिस्तान हमेशा इन संगठनों की अपने देश में मौजूदगी से इनकार करता आया है। पाकिस्तान को कई बार सबूत भी दिए गए लेकिन उसने आ’तंकी संगठन के खिलाफ आजतक कोई कार्रवाई की। पाकिस्तान के रुख को देखते हुए हमने कदम उठाने की रणनीति तैयार की। आज सुबह बालाकोट में एयर स्ट्राइक की है जिसमें जैश के शीर्ष कमांडर समेत कई आ’तंकियों को ढेर किया गया है। यह एक असैन्य कार्रवाई थी जिसमें आ’तंकी संगठनों को निशाना बनाया गया है। गोखले ने बताया कि 20 साल से पाकिस्तान आ’तंकी साजिश रच रहा था और आ’तंकी संगठनों पर आजतक कोई कार्रवाई नहीं की गई थी।

21 मिनट का ऑपरेशन : भारतीय वायुसेना का यह ऑपरेशन सिर्फ 21 मिनट का था। इस 21 मिनट में भारतीय 12 मिराज फाइटर ने पाकिस्तान के अलग-अलग हिस्सों में हमला किया। इस हमले में 300 से ज्यादा आ’तंकियों के ढेर होने की संभावना है। सूत्रों के मुताबिक भारतीय वायुसेना ने बालाकोट और मुजफराबाद सेक्टर में यह हमला किया। जानकारी के मुताबिक भारतीय वायुसेना की ओर से 1000 किलो बम का इस्तेमाल किया गया है। आजतक की रिपोर्ट के अनुसार इस पूरे ऑपरेशन को अजीत डोभाल लीड कर रहे थे।

इससे पहले पाकिस्तान के सेना की मीडिया शाखा अंतर-सेवा जन संपर्क (आईएसपीआर) के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट कर भारतीय कार्रवाई को कंफर्म कर दिया। हालांकि भारत से नुकसान के दावे को खारिज कर दिया। गफूर ने ट्वीट किया, भारतीय वायुसेना के विमान मुजफराबाद सेक्टर से घुसे। पाकिस्तानी वायुसेना की ओर से समय पर और प्रभावी जवाब मिलने के बाद वह जल्दीबाजी में अपने बम गिरा कर बालाकोट के करीब से बाहर निकल गए। जानमाल को कोई नुकसान नहीं हुआ है।’’

बता दें कि बीते 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती हमले के बाद दोनों देशों के बीच तनाव का माहौल है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लगातार पाकिस्तान को जवाब देने के संकेत दिए थे।

वहीं भारत की ओर से पाकिस्तान से व्यापार के मोर्चे पर भी सख्ती दिखाई जा रही है।भारत ने हाल ही में मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छिन लिया है जबकि आयात शुल्क 200 फीसदी बढ़ा दिया गया है। इसके बाद से पाकिस्तान परेशान नजर आ रहा है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *