Connect with us

विशेष

आधा दर्जन पूर्व विधायकों ने पकड़ा अजय-दुष्यंत का हाथ

Published

on

चंडीगढ़। वर्चस्व की लड़ाई में दोफाड़ हो चुके इनेलो के लिए कल का दिन भारी रहा। प्रदेश में जहां सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने पार्टी के पदों से सामूहिक इस्तीफे देकर सांसद दुष्यंत चौटाला को अपना नेता स्वीकार कर लिया, वहीं आधा दर्जन पूर्व विधायकों व कई दर्जन पदाधिकारियों ने भी अजय चौटाला की तरफ रुख कर लिया है।

सबसे बड़ा घटनाक्रम होडल विधानसभा क्षेत्र में हुआ जहां साठ गांवों के पदाधिकारियों ने अपने-अपने पदों से इस्तीफे देकर दुष्यंत चौटाला का समर्थन करने का ऐलान कर दिया। दुष्यंत को पार्टी से बाहर करने के बाद लगातार इस्तीफों का दौर चल रहा है। पूर्व मंत्री जगदीश नैयर, लबे समय तक किसान प्रकोष्ठ के अध्यक्ष रहे पूर्व विधायक निशान सिंह टोहाना, पूर्व विधायक रण सिंह बैनीवाल, पूर्व विधायक मास्टर धर्मपाल सिंह ओबरा, मक्खन सिंह पुंडरी, तीन बार विधायक रहे रमेश खटक ने भी अभय सिंह चौटाला का साथ छोड़ते हुए दुष्यंत का हाथ पकड़ लिया है।

पार्टी के वर्तमान विधायक राजदीप फौगाट व अनूप धानक भी अब खुलकर दुष्यंत चौटाला के साथ दिखाई दे रहे हैैं। हरियाणा के विभिन्न जिलों से ऐसे सैकड़ों पदाधिकारियों के इस्तीफे दिए जाने की खबर है जो पिछले ढ़ाई से तीन दशक से इनेलो के साथ जुड़े हुए थे। इस्तीफा देने वालों में अधिकतर वह नेता हैं जिन्होंने ओमप्रकाश चौटाला व अजय सिंह चौटाला के समय से पार्टी का साथ दिया है।

भाजपा किसान मोर्चे के प्रदेश उपाध्यक्ष भी आए दुष्यंत के साथ

उधर, भारतीय जनता पार्टी के किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष बलदेव सिंह अलावलपुर ने भाजपा छोड़कर दुष्यंत चौटाला का हाथ थाम लिया है। बलदेव सिंह अलावलपुर भाजपा से पहले इनेलो की युवा ईकाई के प्रदेश अध्यक्ष और प्रदेश प्रभारी रह चुके हैं। अलावलपुर फरीदाबाद जिला इनेलो के पांच बार अध्यक्ष भी रह चुके हैं। वह दुष्यंत के पिता डॉ. अजय सिंह चौटाला के काफी नजदीकी माने जाते हैं। अजय सिंह चौटाला के आह्वान पर बलदेव अलावलपुर ने भाजपा छोड़ इनेलो का दामन थामा है।

दुष्यंत का 25 को होडल में अभिनंदन

इनेलो से इस्तीफा देने वाले दुष्यंत समर्थकों ने उनके लिए सम्मान समारोह का आयोजन भी शुरू कर दिया है। 25 नवंबर को होडल में दुष्यंत का सम्मान समारोह होगा। इसमें पलवल जिले के सभी कार्यकर्ता एवं इनेलो नेता सामूहिक रूप से इस्तीफे देते हुए दुष्यंत का समर्थन करने का ऐलान करेंगे। इसी दिन 25 नवंबर को अभय चौटाला ने भी एक कार्यक्रम का ऐलान कर रखा है। उसकी जगह अभी निर्धारित नहीं है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *