Connect with us

विशेष

इन खूबसूरत महिलाओं के गंदे काम जानकर आपके होश उड़ जाएंगे

Published

on

महिलाओं को हमारे देश में दया और ममता की मूरत माना जाता है. ऐसा कहा जाता है कि महिलाओं में सबके प्रति प्यार होता है. पति और परिवार से लेकर बच्चों तक वह सबका ध्यान रखती है. लेकिन जब इसी महिला को गुस्सा आता है तो इसके गुस्से से कोई नहीं बच पाता. वो गुस्से में ऐसी हदें पार कर देती हैं, जिससे सामने वाले की रूह तक कांप जाती है.

Via

आपको हम आज कुछ ऐसी ही खूबसूरत दिखने वाली महिलाओं के ऐसे कारनामे के बारे में बताने जा रहे हैं. इन खूबसूरत महिलाओं ने अपने ही पति का ऐसा हाल किया कि सुनने वाले दंग रह गए. किसी ने अपने पति को ज़िंदा जला दिया तो किसी महिला ने अपने ही पति के मांस को खा लिया. आईये जानते हैं इन खूबसूरत महिलाओं के गंदे काम के बारें में जिन्हें जानकर आपके होश उड़ जाएंगे.

किरणजीत अहलूवालिया

यह मामला वर्ष 1989 का है. लंदन में रहने वाली किरणजीत अहलूवालिया ने कास्टिक सोडा और पेट्रोल का मिक्सचर अपने पति दीपक के ऊपर डालकर उसे जला डाला था. किरण के मुताबिक उसका पति उसे बहुत टार्चर करता था. वह उसके साथ रोजाना मारपीट करता था. इतना ही नही, वह हर दिन किरण का रेप भी करता था. किरण 10 सालों तक यह सब सहती रही. लेकिन एक दिन जब किरण के सब्र का बांध टूटा तो उसने अपने सोते हुए पति को ज़िंदा जला डाला. दीपक की मौके पर ही मौत हो गई. किरण को पहले तो उम्रकैद की सज़ा सुनाई गई. लेकिन बाद में उसके ऊपर हुई ज्यादती को ध्यान में रखकर रिहा कर दिया गया.

सविता बस्ती

Via

ऐसा कहा जाता है कि पति-पत्नी का रिश्ता बिलकुल कच्ची डोर की तरह होता है. इसमें कोई शक नहीं होना चाहिए. अगर इस रिश्ते में एक बार दरार पड़ जाए तो उसे दोबारा जोड़ना मुश्किल ही नहीं बल्कि नामुमकिन हो जाता है. पंजाब के जालंधर में एक ऐसा ही पति पत्नी का मामला सामने आया था. यहां पत्नी के अफेयर के चलते पति ने शादी के 14 साल बाद मौत को गले लगा लिया. रिंकू की पत्नी सविता बस्ती रजनीश की दुकान में नौकरी करने गई. पत्नी के अफेयर कि खबर सुनकर रिंकु परेशान हो गया. जब उसने सविता को वहां काम करने से मना किया तो उसने अपने पति को ही छोड़ दिया. इसी वजह से परेशान होकर रिंकू ने सुसाइड कर लिया. फ़िलहाल पुलिस ने पति को आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में पत्नी को हिरासत में ले लिया है.

रजनी नारायण

Via

जितनी मासूम दिखने में रजनी नारायण लगती है उतनी है नहीं. साल 2008 में ऑस्ट्रेलिया में रहने वाली भारतीय मूल की रजनी नारायण ने अपने ही पति के प्राइवेट पार्ट में पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी थी. जब रजनी ने ऐसा किया तो उसका पति सतीश नारायण सो रहा था. अचानक हुए इस अटैक से वह घबरा गया और उसने हड़बड़ी में स्प्रिट्स की बोतल अपने उपर डाल ली. स्प्रिट्स की बोतल से आग और ज़्यादा भड़क गयी और वह बुरी तरीके से जल गया. हादसे के 20 दिन बाद ही पति की मृत्यु हो गयी. पुलिस से पूछताछ के दौरान रजनी ने बताया कि उसका मकसद अपने पति की जान लेना नहीं था. वह सिर्फ उसके प्राइवेट पार्ट को नुकसान पहुंचाना चाहती थी.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *