Connect with us

विशेष

इस वजह से हनुमान जी की गदा को रखा जाता है पाकिस्तान की संसद भवन!

Published

on

दोस्तों अपने फिल्मो में कई बारे देखा होगा की जब फिल्म में अदालत का कोई सीन आता है तो उसमे जो भी गवाह होता है उससे कुछ भी पूछने से पहले उससे गीता और कुरान की कसम दी जाती है,जबकि रियल में ऐसा कुछ नहीं होता है,यह सिर्फ एक तथ्य है जिसे लोग मानते है। लेकिन सोशल मिडिया पे एक फोटो वाइरल हुई इस में साफ तरह से बताया गया की पाकिस्तान की संसद भवन में भगवान हनुमान की गदा रखे हुवे है जैसे समूचे भारत ने देख देख के वाइरल कर दिया अगर इस बात की सच्चाई को जान ले तो आप की हंसी नही रुक पाएंगी।

इस वजह से हनुमान जी की गदा को रखा जाता है पाकिस्तान की संसद भवन! 1

बता दे की हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान की विधानसभा में हनुमान जी की गदा रखते है,कई लोगो का मन्ना है की भगवान हनुमान को पाकिस्तान की संसद में पूजा जाता है और उन की पूजा होती है,लेकिन कोई नहीं जानते है की ये आखिर सचाई क्या है। लेकिन आज आपको बता दे की पाकिस्तान की संसद में गदा क्यों रखी हुई है।

इस वजह से हनुमान जी की गदा को रखा जाता है पाकिस्तान की संसद भवन! 2

प्राचीन भारत में सभी राजाओ द्वारा न्याय के रूप में गदे को रखा जाता था जो की आगे चलकर आज़ादी से पहले तक कानून व्यवस्था में न्याय के भवन में इसे रखा जाता था क्यों के उचित न्याय करना भी एक धर्म है और इस गदा को भगवान का स्वरुप मान कर पूरा मामला सुलझाया जाता था,आजादी के बाद भी भारत में कही कही आज भी इस गदा को न्याय सदन में रखा जाता है ताकि सभी को उचित न्याय मिल सके,ऐसा कहा जाता है की भगवान् हनुमान को श्री राम के बाद जिससे सबसे ज्यादा प्यार था वो उन का गदा था,हनुमान अपने गदे को हमेशा अपने साथ रखा करते थे

इस वजह से हनुमान जी की गदा को रखा जाता है पाकिस्तान की संसद भवन! 3इस वजह से हनुमान जी की गदा को रखा जाता है पाकिस्तान की संसद भवन! 4

भारतीय सभ्यता में, हिन्दू धर्म में गदा को क्रोध,अहंकार,लालच,वासना,किसी विशेष वस्तु हेतु लगाओ इन 5 तथ्य को त्यागना पड़ता है,गदा का मुख्य रूप हथियार न होकर के शासन करने की शक्ति और संप्रभुता शासन करने का अधिकार माना जाता है, आप को जानकर हैरानी होगी की आज के समय में भी ऐसा होता हो अब इस का पाकिस्तान के शासन से क्या ताल्लुक है देखते है।अकेले पाकिस्तान ही नहीं दुनिया के हर देश की संसद में इसे रखा हुआ पाया गया है इसका रंग रूप थोड़ा अलग हो जाता है जैसा की कॉमनवेल्थ गेम्स ब्रिटेन के अधीन राष्ट्रीय खेलो में आधी गदा को दिखया जाता है उस के बाद ही खेलो को खेला जाता है इस में वो गदा आधी होती है और उसमें से आग निकलती हुई प्रदर्शित होती है,जिसे हम मशाल कहते है

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *