Connect with us

भोजन

उत्तर भारत के ये 14 फ़ेमस ढाबे जो न सिर्फ़ परांठों, बल्कि अन्य लज़ीज़ व्यंजनों के लिए भी हैं फ़ेमस

Published

on

भारत हमेशा से ही अपने लज़ीज़ व्यंजनों के लिए दुनियाभर में प्रसिद्ध है. यही कारण है कि दुनियाभर के पर्यटक भारत आते हैं ताकि यहां के अलग अलग खाने का लुत्फ़ उठा सकें. हिन्दुस्तान का स्ट्रीट फ़ूड ही नहीं, बल्कि यहां के ढाबों का खाना भी लाजवाब होता है.


आज हम आपको हाईवे पर स्थित उत्तर भारत के उन फ़ेमस ढाबों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो न सिर्फ़ अपने परांठों बल्कि अन्य लज़ीज़ व्यंजनों के लिए भी फ़ेमस हैं-

1- सुखदेव का ढाबा (मुरथल)

मुरथल में NH-1 पर स्थित ‘सुखदेव का ढाबा’ अपने लज़ीज़ परांठों के लिए दिल्ली-NCR के युवाओं के बीच काफ़ी पॉपुलर है. ये ढावा कम आलिशान होटल ज़्यादा लगता है. वीकेंड पर लोग यहां के परांठों का लुत्फ़ उठाते दिख जाते हैं. अगर आप चंडीगढ़ जा रहे हैं तो ‘सुखदेव का ढाबा’ आपका स्वागत करता है. ये ढावा 24/7 खुला रहता है. यहां आप हर तरह के खाने के अलावा आलू, गोभी, पनीर व मिक्स परांठों के साथ चाय या फिर लस्सी का आनंद ले सकते हैं.

2- शिवा ढाबा (गजरौला)

दिल्ली से नैनीताल जाने वालों के लिए शिवा के ढाबे में रुकना तो बनता है. गजरौला के पास NH-24 पर स्थित ‘शिवा ढाबा’ अपने लज़ीज़ व्यंजनों के लिए काफ़ी फ़ेमस है. 24/7 यहां लोगों की भीड़ देखी जा सकती है. यहां आप कुल्हड़ की गरमा-गरम चाय के साथ स्टफ्ड परांठे का लुत्फ़ उठा सकते हैं. इस ढाबे की ख़ासियत ये है कि यहां आपको सिर्फ़ शुद्ध शाकाहारी भोजन ही मिलेगा.

3- करनाल हवेली (मुरथल)

‘करनाल हवेली’ मुरथल की शान है. ये ढाबा वाकई में किसी हवेली से कम नहीं है. ‘सुखदेव और पहलवान के ढाबे से एकदम अलग हवेली अपनी ख़ूबसूरत बनावट की वजह से दिल्ली-NCR के युवाओं के बीच पॉपुलर सेल्फ़ी डेस्टिनेशन बनता जा रहा है. लोग यहां खाते कम हैं फ़ोटोग्राफ़ी ज़्यादा करते दिखाई देते हैं. हवेली में आपको हर तरह के पंजाबी व्यंजन चखने को मिल जायेंगे. यहां की कढ़ी और अमृतसरी छोले ज़रूर ट्राई करें.

4- ओल्ड राव ढाबा (जयपुर हाईवे)

जयपुर NH-1 हाईवे पर ही स्थित ये ढाबा भी आने जाने वालों के लिए काफ़ी अच्छी जगह मानी जाती है. ये ढाबा अपने नॉर्थ इंडियन वेज और नॉनवेज व्यंजनों के लिए फ़ेमस है. यहां आपको खाने के साथ अनलिमिटेड सलाद और घी मिल जायेगा. यहां के स्टफ्ड नान, दाल फ्राई, दाल मखनी और चना मसाला ज़रूर चखें.

5- पहलवान का ढाबा (मुरथल)

ये ढाबा भी मुरथल में NH-1 पर स्थित है. ‘पहलवान का ढाबा’ भले ही सुखदेव के ढाबे की तरह आलिशान न हो, लेकिन अपने लज़ीज़ परांठों के लिए बेहद पॉपुलर है. वीकेंड पर लोग यहां के पराठों का लुत्फ़ उठाते दिख जाते हैं. पहलवान का ढाबा भी 24/7 खुला रहता है. यहां आप आलू, गोभी, पनीर के परांठों के साथ चाय या फिर लस्सी का आनंद ले सकते हैं.

6- ज्ञानी दा ढाबा (कालका-शिमला हाईवे)

दिल्ली से 2 घंटे की ड्राइव करके आप कालका-शिमला हाईवे पर स्थित ‘ज्ञानी दा ढाबा’ पहुंच सकते हैं. शिमला या कसौली जाने वाले अधिकतर यात्रियों के लिए ‘ज्ञानी दा ढाबा’ एक नियमित अड्डा है. यहां का बटर चिकन और लेमन चिकन खा लोगे तो उंगलियां चाटते रह जाओगे. खाने के बाद ठंडी खीर ज़रूर खाएं. अगर आप ठंडी बियर और बेसकिन रॉबिंस आइसक्रीम के शौक़ीन हैं तो उसके आउटलेट्स भी हैं यहां पर.

7- चीतल ग्रैंड (खतौली)

दिल्ली से देहरादून जाने वाले रास्ते में खतौली के पास ‘चीतल ग्रैंड ढाबा’ है. यहां के स्वादिष्ट व्यंजनों की ख़ुशबू आपको बस से उतरने पर मजबूर कर देगी. यहां पर आप घर जैसे खाने का लुत्फ़ उठा सकते हैं. यहां पर आपको नॉर्थ इंडियन ही नहीं, बल्कि साउथ इंडियन डिशेज़ के अलावा सैंडविच, ऑमलेट और कटलेट भी मिल जायेंगे.

8- आबशार ढाबा (कालका-शिमला हाईवे)

कालका-शिमला हाईवे पर स्थित ‘आबशार ढाबा’ सोलन क्रॉस करने के बाद कंडाघाट से पहले पड़ता है. इस इलाके में आपको कई ढाबे मिलेंगे, लेकिन ‘आबशार ढाबा’ यहां की शान है. यहां पर आपको शुद्ध पहाड़ी व्यंजन खाने को मिलेंगे, जो घर के खाने की याद दिलाएंगे.

9- मॉडर्न ढाबा (कालका-शिमला हाईवे)

कालका-शिमला हाईवे पर स्थित ये एक और ढाबा है जो यात्रियों के बीच काफ़ी फ़ेमस है. यहां आप कम पैसों में भरपेट खाना खा सकते हैं. इस ढाबे की ख़ासियत ये है कि यहां आपको शुद्ध शाकाहारी भोजन ही मिलेगा. अगर आप राजमा-चावल के शौक़ीन हैं तो मॉडर्न ढाबा बेस्ट जगह है.

10- पूरन सिंह दा ढाबा (अम्बाला सिटी)

अम्बाला से कुछ ही दूर NH-1 पर स्थित ‘पूरन सिंह दा ढाबा’ अपने लज़ीज़ व्यंजनों के लिए इस इलाके में काफ़ी फ़ेमस है. दिखने में किसी साधारण ढाबे सा लगने वाले इस ढाबे में आपको 5-स्टार जैसा ट्रीटमेंट मिलेगा. अगर आपने एक बार यहां के खाने को चख लिया तो अच्छे से अच्छे होटल के खाने को भूल जाएंगे.

11- भजन तड़का ढाबा (गजरौला)

गजरौला के पास NH-24 पर स्थित ‘भजन तड़का ढाबा’ भी अपने लज़ीज़ व्यंजनों और 5 स्टार ट्रीटमेंट के लिए फ़ेमस है. आप यहां 24/7 खाने का लुत्फ़ उठा सकते हैं. इस ढाबे की ख़ासियत ये है कि यहां आपको सिर्फ़ शुद्ध शाकाहारी भोजन ही मिलेगा. ये ढाबा अपने पनीर बटर मसाला, चना मसाला, कढ़ी-पकोड़ा और गार्लिक व लच्छा परांठों के लिए प्रसिद्ध है.

12- भीमू ढाबा (मंडी-मनाली रोड)

मनाली-मंडी के बाहरी इलाके में स्थित ‘भीमू ढाबा’ से भले ही लोग अब भी अनजान होंगे, लेकिन मनाली जाने वालों के लिए ये एक ख़ास जगह है. इस ढाबे तक पहुंचने के लिए आपको मंडी बस स्टॉप क्रॉस करने के बाद 5 किमी तक ड्राइविंग करनी होगी. फिर ‘भीमू ढाबा’ अपने लज़ीज़ व्यंजनों से आपका स्वागत करेगा. यहां का राजमा, काली दाल, सफ़ेद मक्खन में डूबे परांठे खाकर दिल ख़ुश हो जायेगा.

13- ग्रैंड लस्सी शॉप (जीरकपुर-पटियाला रोड)

जीरकपुर-पटियाला रोड NH 21 पर ग्रैंड लस्सी शॉप है. लस्सी के शौकीनों के लिए ये एक परफ़ेक्ट जगह है. सिर्फ़ टेस्टी लस्सी ही नहीं आप यहां पंजाबी खाने का लुत्फ़ भी उठा सकते हैं.

14- संजय ढाबा (श्रीनगर-लेह हाईवे)

श्रीनगर-लेह हाईवे पर स्थित ‘संजय ढाबा’ भी पर्यटकों के बीच काफ़ी फ़ेमस है. श्रीनगर से लेह जाने और आने वालों के लिए ‘संजय ढाबा’ एक प्रमुख जगह है. इस छोटे से ढाबे की खासियत है यहां मिलने वाले परांठे और आलू-गोभी की सब्ज़ी. यहां से चाय की चुस्की लेते हुए सूर्योदय देखना बेहद रोमांचक होता है.

दोस्तों अगर आपको भी लगता है कि उत्तर भारत में इनसे भी बेहतर हाईवे ढाबे हैं तो हमारे साथ ज़रूर शेयर करें.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *