Connect with us

ऑटोमोबाइल

ऐसा हो सकता है मारुति की न्यू Alto का मॉडल, कंपनी इसी साल अक्टूबर में करेगी लॉन्च

Published

on

मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) अपनी एंट्री लेवल कार आल्टो (Alto) का अपग्रेड मॉडल लॉन्च करने की तैयार में है। कंपनी इस बात का ऐलान भी कर चुकी है कि इस कार को इसी साल अक्टूबर में ग्लोबल लॉन्च किया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस कार का मॉडल पूरी तरह बदल जाएगा। यानी कस्टमर को ऑल न्यू आल्टो मिलेगी। कुछ रिपोर्ट्स में ऐसा कहा गया है कि इसका मॉडल Maruti Regina से मिलता-जुलता होगा।

न्यू आल्टो के फीचर्स

ग्लोबल मार्केट में उपलब्ध मारुति अल्टो भारत में मिलने वाली मारुति सुजुकी अल्टो 800 से काफी अलग है। इसमें नया प्लेटफॉर्म और नया इंजन दिया गया है, जिसे अक्टूबर 2014 में लॉन्च किया गया था। जापानीज सुजुकी अल्टो में 660 सीसी का इंजन है। नई जनरेशन अल्टो सुजुकी के हर्टेक्ट प्लेटफॉर्म पर बेस्ड है जो मारुति सुजुकी डिजायर, स्विफ्ट और ऑल न्यू वैगनआर में भी मिलता है। नए प्लेटफॉर्म पर बेस्ड होने के कारण नई अल्टो का वजन कम हुआ है बल्कि कार में अब पहले से बेहतर डायनामिक्स भी मिलते हैं।

देश की नंबर-1 कार हा आल्टो

मारुति सुजुकी अल्टो ने 40 साल पहले अक्टूबर 1979 में पहली बार इंटरनेशनल मार्केट में कदम रखा था। वहीं, भारत में इसे 2000 में लॉन्च किया गया था। आल्टो मारुति की सबसे ज्यादा बिकने वाली कार भी है। इस कार की सेलिंग दूसरी कंपनियों के तुलना में सबसे ज्यादा रही है। 2004 से लगातार 14 साल तक ये सबसे ज्यादा बिकने वाली कार भी रही। कंपनी के रिकॉर्ड के मुताबिक मार्च 2018 में इसकी 35 लाख यूनिट इंडिया में बेची जा चुकी हैं।

कम कीमत, ज्यादा माइलेज

इंडिया में आल्टो के दो मॉडल 800 और K10 आते हैं। Alto पेट्रोल और CNG वेरिएंट में भी आती है। CNG में इसके दो मॉडल LXI और VXI हैं। पेट्रोल वेरिएंट की दिल्ली एक्स-शोरूम प्राइस 2.63 लाख रुपए और CNG वेरिएंट की एक्स-शोरूम प्राइस 3.83 लाख रुपए है। कंपनी का ऐसा दावा है कि CNG का माइलेज 33.44 km/l और पेट्रोल का 24.70 km/l है।

भारत में बदल रहे सेफ्टी नियम

सरकार द्वारा कार सेफ्टी से जुड़ी नई गाइडलाइन जारी की गई है। जिसमें एयरबैग, ABS, बैक सेंसर के साथ दूसरे सेफ्टी फीचर्स होना जरूरी है। साथ ही, 2020 से सेल होने वाली सभी कारों में BS-VI इंडन होना चाहिए। ऐसे में अब न्यू आल्टो को पहले ज्यादा हाईटेक बनाया जा रहा है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *