Connect with us

दुनिया

ओबामा ने अमेरिकियों को किया आगाह, ट्रंप जीते तो आंसू बहाने पर मजबूर होगा देश

Published

on

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने देशवासियों को चेतावनी देते हुए कहा कि देश का लोकतंत्र दांव पर लगा हुआ है, क्योंकि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप राष्ट्रपति पद के लिए ‘स्पष्ट रूप से अनफिट’ हैं। ओबामा की यह टिप्पणी डेमोक्रेटिक नेशनल कन्वेंशन (डीएनसी) का हिस्सा थी, जो उन्होंने फिलाडेल्फिया में म्यूजियम ऑफ अमेरिकंस रिवॉल्यूशन से वर्चुअल तौर पर की।

पूर्व उप-राष्ट्रपति जो बाइडन को डेमोक्रेटिक राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में स्वीकार करने का मतदाताओं से आग्रह करते हुए ओबामा ने कहा, “मैं आपसे आपकी क्षमता पर विश्वास करने के लिए भी कह रहा हूं, जो कि नागरिकों के रूप में अपनी जिम्मेदारी निभाने की है और यह सुनिश्चित करने की है कि हमारे लोकतंत्र के मूल सिद्धांत आगे भी जारी रहें। क्योंकि अभी जो दांव पर है, वह हमारा लोकतंत्र है।”

द हिल समाचार वेबसाइट के अनुसार पूर्व राष्ट्रपति ने कहा, “अगर यह प्रशासन जीत जाता है तो यह हमारे लोकतंत्र को आंसू बहाने पर मजबूर कर देगा। इसने ऐसा करके दिखाया है।” अपने संबोधन में ओबामा ने ट्रंप पर उनके चरित्र, प्रदर्शनकारियों के साथ किए गए व्यवहार, मीडिया पर हमलों और नौकरी के प्रति प्रतिबद्धता की कमी को लेकर भी हमला बोला।

ओबामा ने आगे कहा, “मुझे उम्मीद थी कि डोनाल्ड ट्रंप गंभीरता से काम करने में कुछ दिलचस्पी दिखा सकते हैं, वह कार्यालय की जिम्मेदारी महसूस कर सकते हैं लेकिन उन्होंने ऐसा कभी नहीं किया। उन्होंने काम में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई, किसी की मदद करने के लिए अपने कार्यालय की अद्भुत शक्तियों का उपयोग करने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई।”

इस दौरान ओबामा ने अपने संबोधन में डेमोक्रेट राष्ट्रपति उम्मीदवार जो बाइडन को अपना भाई बताते हुए उनके लिए जो स्नेह जताया, वह भी उल्लेखनीय रहा। बता दें कि इससे पहले उनकी पत्नी मिशेल ओबामा ने भी अपने भाषण में कहा था कि ट्रम्प ‘हमारे देश के लिए गलत राष्ट्रपति’ हैं।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.