Connect with us

दुनिया

कोरोना काल में अमेरिका की छवि हुई बेहद खराब, ट्रंप दुनिया के सबसे कम भरोसेमंद नेता बनेः प्यू सर्वे

Published

on

कोरोना वायरस के प्रसार को रोक पाने में नाकाम रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की छवि को पूरी दुनिया में बहुत नुकसान पहुंचा है। हालिया ग्लोबल सर्वे की मानें तो कोविड-19 महामारी से निपटने में पूरी तरह विफल रहे अमेरिका और डोनाल्ड ट्रंप की छवि पिछले कुछ समय में बेहद खराब हुई है।

यह सर्वे प्यू रिसर्च सेंटर द्वारा 10 जून और 3 अगस्त के बीच 13 देशों में 13,000 से अधिक वयस्कों के बीच किया गया। इसमें यह बात सबसे प्रमुख रूप से सामने आयी कि अमेरिका और अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के प्रति विश्वास में लोगों में तेजी से गिरावट देखी गयी है। अमेरिका की इतनी कमजोर छवि शायद दशकों में पहली बार हुई है।

सर्वे में हिस्सा लेने वाले ब्रिटेन के सिर्फ 41 प्रतिशत लोगों ने ही अमेरिका को लेकर सकारात्मक और भरोसे वाली राय रखी, जो कि प्यू सर्वेक्षण द्वारा आज तक दर्ज सबसे कम अनुपात है। जबकि फ्रांस में, एक तिहाई से भी कम उत्तरदाताओं ने अमेरिका के प्रति भरोसा जताया। वहीं केवल एक चौथाई जर्मनी वासियों ने इस तरह की राय रखी। यहां बता दें कि फ्रांस और जर्मनी में लोगों ने मार्च 2003 में इराक पर आक्रमण के वक्त अमेरिका को इस तरह की नकारात्मक रेटिंग दी थी।

सर्वेक्षण में राष्ट्रपति ट्रंप को विश्व का सबसे कम भरोसेमंद नेता माना गया है। सर्वे में शिरकत करने वाले 13 देशों के महज 16 फीसदी लोगों को लगता है कि ट्रंप वैश्विक मामलों में सही ढंग से काम करेंगे। वहीं जर्मन चांसलर, एंगेला मर्केल 76 फीसदी रेटिंग के साथ सबसे भरोसेमंद नेता मानी गयी हैं। वह सर्वे में शामिल किए गए छह नेताओं में सबसे टॉप पर रही हैं। जबकि फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन 64 प्रतिशत रेटिंग के साथ दूसरे और ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन 48 प्रतिशत अंकों के साथ तीसरे नंबर पर रहे।

गौरतलब है कि जनवरी 2017 में डोनाल्ड ट्रंप ने बराक ओबामा से व्हाइट हाउस की कमान संभाली थी, लेकिन हाल के महीनों में कोरोना वायरस महामारी को काबू में करने में असफल रहे ट्रंप प्रशासन की लोकप्रियता बहुत नीचे गिर चुकी है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.