Connect with us

देश

खूबसूरत युवती की सच्चाई जानकर उड़ गए होश, Gurugram में हुआ Honey Trap गैं ग का खुलासा

Published

on

Honey Trap में फंसा कर एक युवक से 25 लाख रुपये मांगने के आरोप में 3 युवतियों को सोमवार शाम को गुरुग्राम सेक्टर-29 थाना पुलिस ने लेजर वैली पार्क के नजदीक से arrest कर लिया है। इन तीनों युवतियों पर आरोप है कि ये एक युवक को दु ष्कर्म के मुकदमे में फसाने की ध मकी देकर पीड़ित से 25 लाख रुपये की मांग कर रही थीं।

ऐसे खुला राज

वहीं, मूल रूप से rajasthan के रहने वाले पीड़ित युवक ने जब पुलिस में इस बाबत शिकायत दी तो पुलिस ने तीनों युवतियों को पकड़ने के लिए जाल बिछाया। इसके बाद पुलिस के कहने पर पीड़ित/शिकायकर्ता ने आरोपित युवतियों को 5 लाख रुपये भी दिए। इस बीच पुलिस के शिकंजे में फंसी तीनों युवतियों को 5 लाख रुपयों की नगदी के साथ गिरफ्तार कर दिया गया।

पीड़ित युवक के मुताबिक, वह अपने काम के सिलसिले से gurugram आता-जाता रहता है। करीब 2 वर्ष पहले शहर के एक मॉल के पास इसकी मुलाकात एक युवती से हुई। आपस में dosti होने के बाद इन दोनों के बीच phone पर बातें होने लगीं। कुछ महीनों बाद युवती ने अपने बेटे के जन्मदिन पर उसे चकरपुर अपने घर बुलाया और रात को party खत्म होने के बाद युवती का पति कहीं चला गया। वहीं, युवती ने पीड़ित युवक को रात को अपने घर पर ही रुकने को कहा और वह रुक गया।

युवक की मानें युवती की सहमति से ही एक रात को दोनों के बीच शारारिक सं बंध बने और अगले दिन यह अपने घर rajasthan चला गया। इस दौरान उसे शक भी हुआ, लेकिन उसने ज्यादा dhayan नहीं दिया। आरोप है कि इसके बाद युवती ने उसे फोन करके ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया कि इसने उसके साथ जबरदस्ती गलत काम किया है।

युवती ने ध मकी दी कि वह 25 लाख रुपये दे वरना वह पुलिस में जाकर दु ष्कर्म का मामला दर्ज करा देगी। ऐसा नहीं करने की एवज में उससे 25 लाख रुपयों की demand की गई। युवक का कहना है कि बदनामी के डर से उसने कुछ पैसे युवती को दिए भी। आरोप है कि वह पैसे अपनी करीबी दोस्तों के जरिये मंगवाती थी।

वहीं, police पूछताछ में आरोपित युवतियों ने उपरोक्त अभियोग में शिकायतकर्ता/पीड़ित को दु ष्कर्म के झूठे केस में फसाने की धमकियां देते हुए उक्त अभियोग में शिकायतकर्ता/पीड़ित से 25 लाख रुपयों की मांग करना स्वीकार किया है।

पिछले सप्ताह भी honey trap में एक युवती हुई थी गिरफ्तार

पिछले सप्ताह भी gurugram में ही हनी ट्रैप में फंसाकर एक युवक से 40 लाख रुपये मांगने का मामला सामने आया था। शिकायत सामने आते ही सदर थाना पुलिस ने जाल बिछाया। इसके बाद friday शाम युवक को एक लाख रुपये देकर सेक्टर-17 इलाके में महिला के पास भेजा। पैसे पकड़ते ही महिला को काबू कर लिया गया। पूछताछ के बाद उसे court में पेश किया गया, जहां से न्यायिक हिरासत में भोंडसी जेल भेज दिया गया। महिला आपत्तिजनक फोटो को आधार बनाकर झूठे आपराधिक मामले में फंसाने की ध मकी भी दे रही थी। उससे एक लाख रुपये के साथ ही एक mobile फोन भी बरामद किया गया है।

friday सुबह सदर थाना पुलिस को दी गई शिकायत के मुताबिक, युवक की सेक्टर-39 में वर्कशॉप है। उसके सामने ही एक पीजी है जिसमें महिला रहती है। दो महीने पहले महिला से उसकी dosti हो गई। धीरे-धीरे दोनों में शारीरिक सं बंध स्थापित हो गए। इसके बाद महिला कहने लगी कि शारीरिक सं बंध स्थापित होने के फोटो उसके पास हैं। इसके आधार पर वह उसे झूठे दु ष्कर्म के case में फंसा देगी। यदि इससे बचना है तो 40 लाख रुपये दे दो।

शिकायत के अनुसार युवक ने कहा कि उसके पास इतने पैसे नहीं हैं। इस पर महिला ने कहा कि 40 लाख नहीं है तो फिलहाल 10 लाख दे दो, बाकी 30 लाख बाद में दे देना। झूठे case में फंसाने की ध मकी देते हुए वह बार-बार पैसे की मांग करने लगी। परेशान होकर उसने पुलिस में शिकायत दी। टीम गठित कर आरोपित महिला को दबोचा

शिकायत सामने आते ही सहायक police आयुक्त (सदर) aman yadav के निर्देश पर सदर थाना प्रभारी बसंत कुमार ने एक टीम का गठन किया। युवक ने महिला से पैसे देने की बात की। Sector -17 इलाके में मिलने का समय तय हुआ। इसके बाद युवक को एक लाख रुपये देकर महिला के पास भेजा गया। जैसे ही युवक ने पैसे दिए, वैसे ही पहले से ही active police team ने आरोपित को रंगे हाथों दबोच लिया।

24 वर्षीय आरोपित महिला मूल रूप से Uttar Pradesh के कानपुर की रहने वाली है। उसकी ससुराल फरुखाबाद में है। वह पिछले चार-पांच साल से पति से अलग रह रही है। पहले एक एक private company में काम करती थी लेकिन फिलहाल कुछ नहीं कर रही है। पूछताछ में उसने आपसी सहमति से शारीरिक सं बंध बनाकर व बाद में सं बंध को आधार बनाकर झूठे मुकदमे में फंसाने की ध मकी देने का आरोप स्वीकार किया है। उसने 40 लाख रुपये मांगने की बात भी स्वीकार कर ली है।

police उपायुक्त (पूर्वी) chandramohan ने सदर थाना पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई की तारीफ करते हुए कहा कि शिकायत मिलने के बाद जैसे ही निर्देश दिया गया, टीम ने बेहतर प्रयास किया। इस वजह से complaint मिलने के कुछ ही घंटे बाद सफलता मिल गई।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Exit mobile version