Connect with us

सेहत

गले में खराशें, सूजन व दर्द में इलायची है बड़े काम की, जानें इसके फायदे

Published

on

सेहत और स्वाद दोनों को सही बनाए रखने में इलायची बेहद उपयोगी है। छोटी और बड़ी दोनों इलायची के फायदे इस प्रकार हैं-

इलायची में कई तरह के औषधीय गुण होते हैं, आमतौर पर इलायची दो तरह की होती है काली और हरी, काली को बड़ी और हरी को छोटी इलायची कहते हैं। सेहत और स्वाद दोनों को सही बनाए रखने में इलायची बेहद उपयोगी है। छोटी और बड़ी दोनों इलायची के फायदे इस प्रकार हैं-

सुबह-शाम छोटी इलायची चबाने से गले में दर्द, खराश या अन्य समस्याओं में लाभ होता है। गले में सूजन हो तो मूली के रस में छोटी इलायची पीसकर लेने से आराम मिलेगा। गले में खराश है, तो सुबह उठते समय और रात को सोते समय छोटी इलायची चबा-चबाकर खाएं और गुनगुना पानी पिएं, इससे राहत मिलेगी।
सर्दी-जुकाम, खांसी और छींकें आने पर छोटी इलायची के साथ अदरक का टुकड़ा, एक लौंग और तुलसी के पत्तों को पान में लपेटकर खा सकते हैं। इससे लाभ मिलेगा।

मुहं की दुर्गंध, किसी तरह का संक्रमण, अल्सर इन सब से इलायची बचाती है। सांसों में बदबू से बचने के लिए रोज इलायची खाएं।
पांच ग्राम बड़ी इलायची को आधा लीटर पानी में उबाल लें। एक चौथाई पानी रहने पर गुनगुना पिएं, इससे उल्टी आनी बंद हो जाएगी। यात्रा के दौरान बस में बैठने पर चक्कर आते हैं या जी घबराता है। इससे निजात पाने के लिए एक छोटी इलायची मुंह में रख लें।
मुंह के छालों के लिए पिसी इलायची को मिश्री के साथ मिलाकर ले सकते हैं। इस मिश्रण के अलावा छोटी इलायची को थोड़ी देर मुंह में रखकर चूसने से भी चक्कर आने की समस्या में आराम मिलेगा।

इलायची के प्रकार –

हरी इलायची

बड़ी इलायची

काली इलायची

भूरी इलायची

नेपाली इलायची

बंगाल इलायची (लाल इलायची)

Show More

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *