Connect with us

देश

गैंगस्टर विकास दुबे के 30 गुर्गों पर पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के तहत दर्ज किया केस, साजिशों से उठाया पर्दा!

Published

on

3 जुलाई को बिकरू गांव में घात लगाकर 8 पुलिसकर्मियों की हत्या करने के आरोपी मृतक गैंगस्टर विकास दुबे के 30 सहयोगियों के खिलाफ कानपुर पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। एसपी (ग्रामीण) बृजेश कुमार श्रीवास्तव के अनुसार, पकड़े गए आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है क्योंकि जांच में पुष्टि हुई है कि “उन्होंने असामाजिक और सरकार विरोधी गतिविधियों के लिए एक गिरोह के रूप में काम किया, साजिश रची और इससे जनता में दहशत फैली।”

इस गिरोह पर 3 जुलाई को बिकरू गांव में डिप्टी एसपी देवेंद्र कुमार मिश्रा और 3 सब-इंस्पेक्टरों सहित 8 पुलिसकर्मियों की हत्या करने और 7 पुलिसकर्मियों को घायल करने का आरोप है।

एसएसपी/डीआईजी प्रीतिंदर सिंह ने भी पुष्टि की है कि जिला मजिस्ट्रेट के आदेश के बाद जेल में बंद 30 आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट लगाया गया है। उन्होंने कहा, “गैंगस्टर एक्ट की संबंधित धाराओं के तहत एक अलग प्राथमिकी जेल में बंद आरोपियों के खिलाफ दर्ज की गई है।”

पुलिस ने मामले में 36 लोगों को आरोपी बनाया था। इनमें से दुबे सहित 6 लोग 3 से 10 जुलाई के बीच मुठभेड़ में मारे जा चुके हैं। आरोपियों में महिलाएं भी शामिल हैं इसमें विकास के सहयोगी अमर दुबे की नाबालिग पत्नी, क्षमा अग्निहोत्री, रेखा अग्निहोत्री, शांति दुबे और खुशी दुबे भी शामिल हैं।

हालांकि, महिलाओं को गैंगस्टर एक्ट से बाहर रखा गया है क्योंकि उनके पति पहले से ही मामले में आरोपी हैं।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *