Connect with us

कोरोना वायरस

घर में अकेले हैं और आ गए कोरोना की चपेट में, बिल्कुल ना घबराएं, जानिए कैसे तैयार रखें अपना ‘प्लान B’

Published

on

पूरे देश में कोरोना वायरस फैल रहा है। अगर आप किसी शहर या अपने घर में अकेले रह रहे हैं और आप कोरोना पॉजिटिव आ जाते हैं। घर पर आपके माता-पिता अकेले हैं, घर पर पेट्स हैं तो क्या आपके पास कार्ययोजना है? उदाहरण के तौर पर आप बेंगलुरु में हैं और कोविड पॉजिटिव हो गए हैं। आदर्श रूप से, बीबीएमपी आपको कॉल करके आपके इलाज और आइसोलेशन की व्यवसथा करती है लेकिन बहुत से लोगों ने बताया कि उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के 5 दिनों बाद तक बीबीएमपी ने उनकी कोई सुध नहीं ली।

ऐसे में लोगों को प्लान बी की जरूरत होती है। अकेले रह रहे पुरुषों और महिलाओं की आरटी-पीसीटी रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो उन्हें घबराने की जरूरत नहीं है। उनके लिए हम एक्सपर्ट्स से बात करके बता रहे हैं कि घर पर क्या तैयारी रखें।

 

Corona virus figures reach 3373 in Uttar Pradesh | कोरोना की चपेट में आए UP  के 71 जिले, संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 3373, अब तक 74 की मौत | Hindi News,  यूपी एवं उत्‍तराखंड

अपनी सहायता प्रणाली को पहचानें: आपके एक-दो निकटस्थ पड़ोसियों, कुछ मित्रों, किराने का सामान बेचने वालों, मेडिकल स्टोर के लोगों से संपर्क बनाए रहें ताकि जरूरत पड़ने पर आप उनकी मदद ले सकें।

डॉक्टर: एक डॉक्टर से पहचान करें जो घर पर कोविड का प्रबंधन करने में आपकी मदद करे। अधिकांश कोविड के मामले बिना लक्षणों वाले होते हैं। अगर आपका ऑक्सिजन लेवल ठीक है और फीवर नियंत्रण में है तो घर पर ही ठीक केयर हो सकती है।

भोजन: ऐसे रसोइयों से संपर्क करें जो घर का बना ताजा खाना सप्लाई करता हो। अगर आपको जरूरत पड़ती है तो वह आपको खाना पहुंचा सकता है।

स्टॉक: आपातकालीन राशन के लिए ओट्स, उपमा और खिचड़ी जैसे रेडी-टू-ईट खाद्य पदार्थ घर पर रखें। इसमें पीने का पानी भी शामिल है।

दवाएं: कुछ बेसिक दवाओं का स्टॉक रखें जैसे-पैरासिटामॉल, बीटाडीन (गार्गल करने के लिए) गैर-डिजिटल थर्मामीटर या बैटरी सहित थर्मामीटर, खांसी की दवाई, पल्स ऑक्सिमीटर, विटमिंस, यदि आपकी दवाएं चल रही हैं तो कम से कम एक महीने का स्टॉक रखें। यदि आप एक महिला हैं, तो घर पर पर्याप्त सैनिटरी नैपकिन रखना न भूलें।

पैसा: एटीएम कार्ड के साथ अपने खाते में पर्याप्त रुपये रखें। यदि आपका बीमा है तो उसकी पॉलिसी ध्यान से पढ़ें। जब आप बीमार हों तो एक मित्र या परिवार का पता लगाएं जिस पर आप पैसे के लेन-देन का प्रबंधन कर सकते हैं। ऐसे परिवार या दोस्त से संपर्क रखें जो आपको जरूरत पड़ने पर आर्थिक मदद कर सकें।

खुद को स्वस्थ रखें: 
शारीरिक और भावनात्मक रूप से खुद को स्वस्थ्य रखें। अगर आप तनाव महसूस कर रहे हैं तो सेल्फ केयर के बारे में पढ़ें और किसी दोस्त या प्रफेशनल काउंसलर्स से बात करें। यदि आप वर्किंग हैं तो पता करें कि क्या आपके कार्यालय में अस्पताल में भर्ती होने, ऐम्बुलेंस, ऑक्सिजन आदि की मदद देने की नीति है कि नहीं।

क्रिटिकल केयर: ऑक्सिजन, ऐम्बुलेंस जैसी क्रिटिकल केयर सर्विसेस के नंबर्स पास में रखें।

होम केयर सर्विसेस: 
कोविड रोगियों के लिए घर पर देखभाल करने वाले अस्पतालों पर रिसर्च करें और जानकारी रखें। याद रखें कि आप जितना ऑर्गनाइज्ड होंगे, उतना ही आसान होगा।

पेट पैरंट्स: उन दोस्तों का पता लगाएं जो आपके पालतू जानवरों को अपने पास रख सकें या किसी पेट हॉस्टल का पता लगाकर रखें।

कोविड चेकलिस्ट
1. लैपटॉप बैकपैक
2. बीमा के साथ मेडिकल फ़ाइल
3. आधार की फोटोकॉपी (प्लस मूल)
4. सभी मूल दस्तावेजों को स्कैन करें और Google ड्राइव पर एक प्राइवेट शेयर फोल्डर में अपलोड करें
5. पानी को साफ करने वाली गोलियां
6. दैनिक दवा (2 सप्ताह की आपूर्ति)
7. बुखार, पेट खराब होने आदि की दवाएं
8. बेसिक फर्स्ट एड किट
9. टॉर्च (अतिरिक्त बैटरी के साथ)
10. अपने फोन को चार्ज करने के लिए पावर बैंक
11. जिकलॉक बैग
12. प्लास्टिक जिप टाइज
13. बड़े और मध्यम कचरा बैग
14. कपड़े बदलने की व्यवस्था
15. इमरेजेंसी कंबल
16. थर्मस
17. तैयार खाना
18. साबुन
कोरोना के बीच बंगाल के लोग क्या कहते हैं

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *