fbpx
Connect with us

विशेष

जम्‍मू-कश्‍मीर से धारा 370 हटाने की सिफारिश, इस धारा के सभी खंड लागू नहीं होंगे: अमित शाह

Published

on

केंद्र सरकार की कश्‍मीर नीति पर गृह मंत्री अमित शाह राज्‍यसभा में बयान दे रहे हैं. इससे पहले वह जैसे ही राज्‍यसभा में पहुंचे, बीजेपी सांसदों ने मेजें थपथपाकर उनका स्‍वागत किया. वह जैसे ही बोलने के लिए उठे, विपक्ष की तरफ से गुलाम नबी आजाद ने कहा, जम्‍मू कश्‍मीर में कर्फ्यू लगा हुआ है. पूर्व मुख्‍यमंत्री नजरबंद किए गए हैं. वहां हालात ठीक नहीं है. सबसे पहले इस पर चर्चा होनी चाहिए.

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पर कैबिनेट की अहम बैठक हुई. यह मीटिंग करीब आधे घंटे चली. इससे पहले पीएम आवास पर सुरक्षा पर कैबिनेट कमेटी (CCS) की बैठक हुई. इसमें राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने कश्‍मीर के हालात पर जानकारी दी. सूत्रों के मुताबिक उससे पहले सुबह गृह मंत्री की कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद के साथ चर्चा भी हुई थी.

राज्‍यसभा में केवल जम्‍मू-कश्‍मीर पर चर्चा
राज्यसभा की आज की सभी नियमित कार्यवाही को स्थगित किया गया. सिर्फ और सिर्फ जम्मू-कश्मीर के मसले पर ही चर्चा होगी. कोई प्रश्‍न काल या जीरो ऑवर नहीं होगा. नियम 267 के तहत राज्‍यसभा के सभापति ने एक बड़े फैसले के तहत आज सदन में अन्‍य सारी कार्यवाहियां रद्द कर दी हैं. पहले से निर्धारित बिज़नेस आज के लिए स्थगित कर दिए गए हैं. इस बीच केंद्र ने कई राज्‍यों के लिए एडवाइजरी जारी की है. उत्‍तर प्रदेश समेत कई राज्‍य हाई अलर्ट पर हैं.  इस बीच कश्मीर में हर तरीके का कम्युनिकेशन बंद है. सुरक्षाबलों को स्पेशल सैटेलाइट फोन दिए गए हैं. जम्मू में CRPF की 40 कंपनियां तैनात हैं. कश्मीर में 100 कंपनियां पहले पहले से ही तैनात हैं.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *