Connect with us

विशेष

जानिए कौंन है डॉ फरीदा बुगती जो अभिनंदन को छोड़ने भारत तक आईं-कुलभूषण जाधव से जुड़ा है कनेक्शन

Published

on

पाकिस्तान ने आखिरकार भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन को छोड़ दिया है। शुक्रवार रात नौ बजे के बाद पाकिस्तानी रेंजर्स और विदेश विभाग के अधिकारी अटारी-वाघा बॉर्डर तक विंग कमांडर अभिनंदन को छोड़ने आए। इस दौरान एक महिला भी विंग कमांडर अभिनंदन के साथ मौजूद थी। वह उनके साथ अटारी-वाघा बॉर्डर तक चलकर आईं।

इस महिला पर सबकी निगाह लगी रही और सवाल उठने लगे कि आखिर यह महिला कौन है? यह महिला विंग कमांडर अभिनंदन की न तो पत्नी है और न ही रिश्तेदार। यह महिला पाकिस्तान विदेश विभाग में भारत मामलों की डायरेक्ट हैं, जिसका नाम डॉ फरिहा बुगती है। फरिहा बुगती पाकिस्तान विदेश सेवा (FSP) की अधिकारी हैं, जो भारतीय विदेश सेवा (IFS) के समकक्ष है। डॉ फरिहा बुगती भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव मामले को भी देखती हैं। फिलहाल जाधव पाकिस्तान की गिरफ्त में हैं। पिछले साल जब जाधव की मां और पत्नी उनसे मिलने पाकिस्तान गए थे, तब भी डॉ फरिहा बुगती मौजूद थीं।

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आ’तंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर हमला किया था। इसमें काफी संख्या में आ’तंकी मारे गए थे। भारतीय वायुसेना के मिराज विमान अपने मिशन को अंजाम देने के बाद सकुशल वापस लौट आए थे और पाकिस्तान कुछ समझ नहीं पाया था। जब पाकिस्तान को इसकी जानकारी हुई, तो वो बौखला गया और फिर भारतीय क्षेत्र पर हवाई हमला किया।

पाकिस्तान ने F-16 लड़ाकू विमानों से भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की, लेकिन भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन ने इसको मार गिराया। इस दौरान अभिनंदन का विमान मिग-21 भी गिर गया और वो एग्जिट कर गए थे। इसके बाद वो पाकिस्तान के कब्जे वाले इलाके में पहुंच गए थे। इसके बाद पाकिस्तानी सेना ने उनको बंधक बना लिया था।

इसके बाद पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन का वीडियो जारी किया और दो भारतीय लड़ाकू विमानों को मार गिराने का दावा किया। हालांकि भारत ने पाकिस्तान के दावे को खारिज कर दिया। पाकिस्तान ने पहले दो भारतीय पायलटों को हिरासत में लेने का दावा किया था, लेकिन बाद में उसने अपना बयान बदला और कहा कि उसकी हिरासत में सिर्फ एक ही भारतीय पायलट है।

इसके बाद भारत ने पाकिस्तान से सख्त लहजे में कहा कि वो उसके पायलट अभिनंदन को फौरन रिहा करे। इसके बाद गुरुवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए ऐलान किया कि वो भारतीय पायलट अभिनंदन को शुक्रवार को छोड़ देंगे। इसके बाद शुक्रवार सुबह से ही हिंदुस्तान में अभिनंदन की वापसी का इंतजार होता रहा और रात हो गई, लेकिन नौ बजे तक अभिनंदन वतन वापस नहीं आए।

इसके बाद पाकिस्तान ने कागजी कार्रवाई में देरी की दलील दी और फिर रात 09:20 बजे विंग कमांडर अभिनंदन को रिहा किया। इसके बाद भारतीय वायुसेना के अधिकारी उनको लेकर अमृतसर हवाई अड्डा पहुंचे और दिल्ली के लिए रवाना हो गए। देर रात तक अभिनंदन दिल्ली पहुंच आए।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *