Connect with us

दुनिया

ट्रंप के राष्ट्रीय सुरक्षा मामले के सहयोगी कोरोना संक्रमित, व्हाइट हाउस में महामारी की हालत गंभीर

Published

on

अमेरिकी राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास व्हाइट हाउस में कोरोना महामारी की स्थिति गंभीर होती जा रही है। व्हाइट हाउस ने पुष्टि की है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रीय सुरक्षा मामले के सहायक रॉबर्ट सी. ओब्रियन कोविड-19 से ग्रस्त हो गए हैं। ओब्रियन अब तक अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के करीब कोरोना से ग्रस्त सबसे उच्च स्तरीय अधिकारी हैं।

वास्तव में अमेरिका में महामारी के प्रकोप के बाद व्हाइट हाउस में कई लोग वायरस से ग्रस्त हो चुके हैं और यह लगातार जारी है। खबरों के अनुसार व्हाइट हाउस में महामारी की स्थिति बहुत गंभीर है। एक के बाद एक राष्ट्रपति के करीब रहने वाले कई अधिकारी और कर्मचारी संक्रमित पाए जा रहे हैं। हालांकि, राष्ट्रपति ट्रंप ने शुरू में ही अपना कोरोना का टेस्ट करवाया था, जो नकारात्मक आया था।

अमेरिका में व्हाइट हाउस में कोरोना की हालत कितनी गंभीर है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि जुलाई में ही ट्रंप के बड़े बेटे की प्रेमिका किम्बर्ली गुइलफॉयल भी कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। उससे पहले मई में ट्रंप की बेटी का एक निजी सहायक कोरोना की चपेट में आ चुका है।

शुरुआत से बात करें तो मार्च में अमेरिकी उप राष्ट्रपति कार्यालय का एक कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया। फिर मई में व्हाइट हाउस में राष्ट्रपति और उनके परिवार की सेवा में तैनात नौसेना के एक सैनिक कोरोना जांच में पॉजिटिव पाया गया था। उसके बाद मई के महीने में अमेरिकी उप राष्ट्रपति की प्रेस सचिव केटी मिलर भी कोरोना संक्रमित पाई गई थीं।

वास्तव में कोरोना केसों की बाढ़ केवल राष्ट्रपति के आसपास ही नहीं है। वर्तमान में अमेरिका में पुष्ट मामलों और मरने वाले मामलों की संख्या दोनों विश्व के लगभग एक चौथाई तक पहुंच चुकी हैं।अमेरिका में महामारी की स्थिति गंभीर होने के साथ बड़ी संख्या में बच्चे कोविड-19 के शिकार हो रहे हैं। हाल की रिपोर्ट के अनुसार कैलिफोर्निया की लॉस एंजिल्स काउंटी में कम से कम 15 बच्चे संक्रमित हुए हैं। टेक्सास की नुएसेस काउंटी में एक साल से कम उम्र के 85 बच्चे ग्रस्त पाए गए हैं।

अमेरिका में कोरोना की गंभीरता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने भी हाल में मास्क पहन लिया है। हाल में व्हाइट हाउस के महामारी से जुड़े एक सम्मेलन में उन्होंने यह कहना भी छोड़ दिया कि अमेरिका में महामारी की स्थिति गंभीर नहीं है।

हालांकि, राष्ट्रपति ने अंततः महामारी की गंभीरता को तो स्वीकार कर लिया है, लेकिन महामारी की रोकथाम के लिए व्हाइट हाउस ने अभी तक कोई ठोस और स्पष्ट कदम नहीं उठाये हैं। खास तौर पर स्कूल का खुलना, वायरस का परीक्षण, उत्पादन की बहाली, मास्क पहनने आदि महत्वपूर्ण मामलों में कोई कारगर काम नहीं किया गया।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.