Connect with us

दुनिया

दुनिया की 5 बड़ी खबरें: ‘सिंध द्वीपों पर अवैध कब्जा करना चाहती है इमरान सरकार’ और शरीफ के भाषणों पर प्रतिबंध लगाने से इंकार

Published

on

इमरान खान सरकार सिंध द्वीपों पर ‘अवैध रूप से कब्जा करना चाहती है’ : बिलावल भुट्टो

इमरान खान सरकार की ओर से सिंध द्वीपों पर नियंत्रण स्थापित करने के लिए लाए गए प्रेसिडेंशियल ऑर्डिनेंस की वजह से पाकिस्तान में राजनीति गर्मा गई है। विपक्ष ने इसे चीन द्वारा ‘अवैध कब्जा’ करार दिया है। क्षेत्रफल के हिसाब से पाकिस्तान का तीसरा सबसे बड़ा प्रांत सिंध, पूर्व में भारत के गुजरात और राजस्थान राज्यों और दक्षिण में अरब सागर तक फैला हुआ है। सिंध तटीय क्षेत्र में लगभग 300 छोटे और बड़े द्वीप हैं।

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने एक सितंबर को ‘पाकिस्तान के आंतरिक और क्षेत्रीय जल में द्वीपों के विकास और प्रबंधन’ के लिए ‘पाकिस्तान द्वीप विकास प्राधिकरण’ की स्थापना के लिए अध्यादेश लाने का वादा किया था।

गनी, खलीलजाद, अमेरिकी कमांडर जनरल मिलर ने अफगान शांति पर चर्चा की

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी, अमेरिकी शांति दूत जल्माय खलीलजाद और अमेरिकी कमांडर जनरल स्कॉट मिलर ने युद्धग्रस्त देश में शांति प्रक्रिया पर चर्चा करने के लिए दोहा में एक बैठक की। टोलो न्यूज के मुताबिक, बैठक सोमवार को हुई।

बैठक के बाद खलीलजाद ने ट्वीट कर कहा, “मैंने राष्ट्रपति से कहा कि अफगानों को शांति के अवसर से चूकने नहीं देना चाहिए। उन्होंने कहा कि वह इस्लामी गणतंत्र वार्ताकारों का समर्थन ते हैं, जब तक वे अपना काम कर रहे हैं। मैंने कहा कि मैं दोनों पक्षों की शांति के लिए प्रतिबद्धता सहित सभी पक्षों से सुनी गई बातों से प्रोत्साहित हूं।”

खलीलजाद ने कहा, “हम सभी देशों, विशेष रूप से पड़ोसियों और अन्य प्रमुख लोगों को भी ऐसा करने के लिए कहते हैं।”

मैरिज हॉल, रेस्तरां कोविड का केंद्र बन उभर रहे : पाकिस्तानी मंत्री

पाकिस्तान के एक मंत्री की तरफ से बयान आया है कि यहां मैरिज हॉल और रेस्तरां कोविड-19 महामारी के प्रसार का मुख्य केंद्र बन उभर रहे हैं। डॉन न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, योजना, विकास और विशेष पहल मंत्री उमर ने सोमवार को राष्ट्रीय कमान और संचालन केंद्र (एनसीओसी) की एक बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा, अगर इन प्रतिष्ठानों के द्वारा मानक संचालन प्रक्रियाओं (एसओपी) का पालन किया जाए, तो संक्रमितों की बढ़ती दर में कमी लाई जा सकती है।

उमर ने कहा कि बीमारी की रोकथाम के लिए संक्रमण के प्रसार दर और सावधानी उपायों पर गौर फरमाना जरूरी रहा है और साथ ही मास्क पहनना भी इस दिशा में कारगर साबित हो सकता है।

पेशावर में प्रोफेसर की गोली मारकर हत्या

इंस्टीट्यूट से अपने घर पर लौटने के दौरान पेशावर में कुछ अज्ञात हथियारबंद लोगों ने एक प्रोफेसर की गोली मारकर हत्या कर दी। मंगलवार को मीडिया रिपोर्ट में यह खबर सामने आई है। एक अधिकारी के हवाले से जियो न्यूज ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि जिस वक्त हथियारबंद लोगों द्वारा उन पर गोलियां चलाई गईं, उस वक्त गवर्नमेंट सुपीरियर साइंस कॉलेज के प्रोफेसर नईमुद्दीन घर वापस जा रहे थे।

हादसे के बाद प्रोफेसर को तुरंत आपातकालीन सहायता के लिए अस्पताल ले जाया गया, लेकिन चोटिल होने की वजह से उन्होंने दम तोड़ दिया। अधिकारी ने आगे कहा कि मामले की जांच की जा रही है।

शरीफ के भाषणों पर प्रतिबंध की मांग वाली याचिका खारिज

इस्लामाबाद हाईकोर्ट (आईएचसी) ने पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और नेशनल असेंबली में विपक्ष के नेता शहबाज शरीफ के टेलीविजन चैनलों और सोशल मीडिया प्लेटफार्मो पर प्रसारित भाषणों पर प्रतिबंध लगाने की मांग वाली को खारिज कर दिया है। द एक्सप्रेस ट्रिब्यून के मुताबिक, सोमवार को, आईएचसी के मुख्य न्यायाधीश अतहर मिनाल्लाह ने याचिका को खारिज कर दिया और याचिकाकर्ता आमिर अजीज अंसारी और उनके वकील न्यायालय प्रश्नों का संतोषजनक जवाब देने में विफल रहे कि भाषणों ने मौलिक अधिकारों का उल्लंघन कैसे किया।

लिखित आदेश में कहा गया है, “राजनीतिक सामग्री से जुड़े मामलों में हाईकोर्ट के संवैधानिक क्षेत्राधिकार को लागू करने की प्रवृत्ति निश्चित रूप से सार्वजनिक हित में नहीं है और वह भी तब जब कानून वैकल्पिक उपायों के लिए प्रावधान करता है।”

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.