Connect with us

विशेष

देश के ऐसे पुलिसवाले जिन्हें देखकर ही छूट जाते हैं अपराधियों के पसीने.. फिल्मों के हीरो भी इनके आगे फेल

Published

on

बीते दिनों महाराष्ट्र के पूर्व एटीएस प्रमुख हिमांशु राय ने दुनिया छोड़ दी। 55 साल के राय लंबे वक्त से ब्लड कैंसर से पीड़ित थे। उन्होंने अपनी ही सर्विस रिवॉल्वर से खुद को गोली मार ली। मुंबई पुलिस ने स्टेटमेंट जारी कर बताया कि सुसाइड नोट में इस बात का जिक्र है कि उन्होंने कैंसर की वजह से ही खुद दुनिया को छोड़ दिया।

गौरतलब है कि एक सख्त अफसर के तौर पर पहचान रखने वाले राय के इस तरह से जाने के मामले ने सबको चौंका दिया। उन्होंने आतंकी गतिविधियों से जुड़े मामलों के साथ आईपीएल फिक्सिंग और सट्टेबाजी,  दाऊद की प्रॉपर्टी को जब्त करने से जुड़े केस की जांच की थी। आज हम आपको ऐसे ही पुलिसवालों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें देखकर अच्छे-अच्छे बदमाशों के पसीने छूट जाते हैं।

किशोर दांगे, महाराष्ट्र : जालना के एक गरीब परिवार में जन्मे किशोर को पुलिस की नौकरी कड़ी मेहनत के बदौलत मिली। इस मुकाम को हासिल करने के लिए पढ़ाई के साथ-साथ उन्होंने बॉडी बिल्डिंग पर भी ध्यान दिया। यही वजह है कि मिस्टर महाराष्ट्र, मिस्टर मराठवाड़ा के अलावा कई विदेशी प्रतियोगिताओं में गोल्ड मेडल जीत चुके हैं।

मोतीलाल दायमा, मध्यप्रदेश : 27 साल के मोतीलाल दायमा इंदौर पुलिस में कॉन्स्टेबल हैं। दोस्त इन्हें प्यार से अर्नोल्ड बुलाते हैं। 2012 से पुलिस में कॉन्स्टेबल की नौकरी कर रहे मोतीलाल का वेतन भले ही कम है, लेकिन अपनी डायट पर वे एक लाख से ज्यादा खर्च करते हैं। इमसें उनके विभाग के ही कुछ अधिकारी व शहर के नागरिक निजी तौर पर दायमा की आर्थिक मदद करते हैं।

नवीन कुमार, हरियाणा : एक इंटरव्यू में नवीन ने बताया कि उन्होंने अपने दोस्त राकेश को देखते हुए बॉडी बिल्डिंग का मन बनाया था। 2013 में ASI नवीन मिस्टर हरियाणा रह चुके हैं। नौकरी के साथ-साथ घंटों जिम को देने के लिए विभागीय अधिकारियों ने ही उनकी मदद की।

तेजेंद्र सिंह, उत्तराखंड : देहरादून के तेजेंद्र को बचपन से ही बॉडी बनाने का शौक था। स्थानीयों के बीच ये ‘बीस्ट’ के नाम से जाने जाते हैं। 2006 में वे पुलिस में भर्ती हुए। एक साल बाद ही पहली बार बॉडी बिल्डिंग में नेशनल में गोल्ड मेडल जीता था। 2009 में मिस्टर हरक्यूलिस का खिताब भी वह जीत चुके हैं।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *