fbpx
Connect with us

विशेष

पत्थरबाजी करते रह गए कश्मीरी लड़के और कश्मीर की ही इस लड़की ने आसामान में सुराख कर दिया

Published

on

जम्‍मू-कश्‍मीर की रहने वाली इरम हबीब प्रदेश की पहली मुस्लिम महिला पायलट बन गई हैं। 30 साल की इरम अगले महीने अब निजी एयरलाइंस गो एयर जॉइन करेंगी। इससे पहले इरम कश्‍मीरी पंडित समुदाय से आने वाली तन्‍वी रैना साल 2016 में घाटी की पहली महिला पायलट बनी थीं।

हबीब ने 2016 में एयर इंडिया जॉइन किया था। पिछले साल अप्रैल महीने में 21 साल आएशा अजीज भारत की सबसे युवा स्‍टूडेंट पायलट बनी थीं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उन्होंने अमेरिका में करीब 260 घंटे विमान उड़ाने का अनुभव हासिल किया है। उन्हें अमेरिका और कनाडा में व्यावसायिक विमान उड़ाने का लाइसेंस मिल गया है। वे बचपन से ही पायलट बनना चाहती थीं।

हालांकि इरम का पायलट बनने का सफर काफी मुश्किल था। इरम के पिता कश्‍मीर के सरकारी अस्‍पतालों में सर्जिकल सामानों की आपूर्ति करते हैं। बचपन से ही इरम का सपना पायलट बनने का था और वो डॉक्ट्रेट की पढ़ाई भी करना चाहती थीं, लेकिन उन्होंने पायलट बनने का सपना पूरा किया।

इंडिया टाइम्स के अनुसार, देहरादून से वानिकी में स्‍नातक की पढ़ाई करने के बाद उन्‍होंने शेर-ए-कश्‍मीर यूर्निवर्सिटी से पोस्‍ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई की है। इरम इस समय दिल्‍ली में हैं और व्‍यवसायिक पायलट बनने के लिए क्‍लासेज ले रही हैं। इरम ने बताया कि उन्‍होंने अमेरिका में करीब 260 घंटे विमान उड़ाने का अनुभव हासिल किया है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *