Connect with us

विशेष

पहले फोन करके मिलने को बुलाया फिर नकली पुलिस बनकर अ श्लील तस्वीरें लीं

Published

on

पुलिस उपमंडल परवाणू के अंतर्गत थाना परवाणू में हनी ट्रैप का मामला दर्ज हुआ है। हरियाणा निवासी एक युवती ने धर्मपुर में बिजली का काम करने वाले ठेकेदार को पहले अपने मोह जाल में फं सा कर मिलने के लिए बुलाया। फिर गिरोह के अन्य सदस्यों ने डरा ध मका कर उसकी उक्त युवती के साथ अ श्लील तस्वीरें खींच कर उसे प्रताड़ित किया।

गिरोह के एक सदस्य ने खुद को मीडिया का चीफ एडिटर बताकर उससे 50 लाख रुपए की मांग करते हुए ब्लै कमेलिंग शुरू कर दी। इस दौरान गिरोह के सदस्यों ने उक्त ठेकेदार से उसकी गाड़ी और 1.60 लाख रुपए भी हड़प लिए। युवक ने तंग आकर आपबीती पुलिस को सुनाई तो पुलिस ने गिरोह के दो युवकों को गिर फ्तार कर लिया। 11 दिसंबर को बहादुर सिंह पुत्र श्री रूप राम निवासी गांव गुल्हाडी तहसील कसौली जिला सोलन ने उप मंडल पुलिस अधिकारी परवाणू योगेश रोल्टा को शिकायत दी कि वह बिजली के काम की ठेकेदारी करता है। कुछ समय पहले एक लड़की इसे मोबाइल से उसके मोबाइल फोन पर बार-बार फोन करती थी, जिससे इसकी उससे बात होने लगी।

Image result for हनीट्रैप

इस 28 नवंबर को उस लड़की ने फोन करके अपने घर बुलाया। उसके कहने पर वह मल्लाह रोड निकट गुरुद्वारा (नजदीक पिंजौर) पहुंचा तो वह लड़की करीब 8 बजे सड़क पर खड़ी थी। वह लड़की इसे एक घर में ले गई वहां पर उसकी एक 6/7 महीने की बेटी थी। उसके बाद इन दोनों ने साथ में श राब पी। इसी दौरान दो आदमी व एक महिला पुलिस की वर्दी में सीधे कमरे में आए और इसके साथ गा ली ग लौज और ध क्का-मु क्की करने लगे।

उसके बाद वे इन दोनों को ध क्का-मु क्की करके जबरन दूसरे कमरे में ले गए और जबरदस्ती दोनों के कपड़े उतार कर बिस्तर पर लेटा दिया और  अ श्लील फोटो ले ली। उसके बाद इसे व उस महिला को सारी रात कमरे में बंद रखा और वे लोग भी सारी रात वहीं पर रहे। सुबह एक सिख व्यक्ति पुलिस की वर्दी में आकर उसे डराने ध मकाने लगा व थाने ले जाने की बात करने लगा।

Image result for हनीट्रैप

इसी बीच वो सिख व्यक्ति महिला को थाने ले जाने की बात कह कर कहीं ले गया। लगभग 1 घंटे बाद एक व्यक्ति जो अपने आपको मीडिया का चीफ एडिटर बता रहा था उस महिला को वापस लेकर आया तथा उसने बहादुर सिंह की गाड़ी की चाबी इससे ले ली और गाड़ी में रखे 1.60 लाख रुपए भी बैग में से निकाल लिए।

इसके बाद खुद को चीफ एडिटर बताने वाले व्यक्ति ने बहादुर सिंह को इस शर्त पर छोड़ दिया कि शाम 3/4 बजे तक 50 लाख रुपए लेकर आना, नहीं तो कार्यवाही करेंगे। उसके बाद वह अपने घर धर्मपुर आ गया जिसके बाद डर के मारे घबराकर व बेइज्जती के डर से इसने अपना फोन कुछ दिनों तक बंद रखा, जब पांच-छह दिन बाद इसने अपना फोन ऑन किया तो इसे वही व्यक्ति लगातार फोन करने लगा।

डरा धमका कर पैसों की डिमांड और ब्लै कमेल करने लगा। कहने लगा कि अगर 50 लाख रुपए ना दिए तो तुम्हारी अ श्लील फोटो  वायरल कर देंगे। उसके बाद इसे पता चला की एक दिन वह उसे ढूंढते हुए धर्मपुर भी आए थे। इसके पास फोन कॉल की रिकॉर्डिंग भी मौजूद है।

पुलिस ने दो को किया गि रफ्तार

पीड़ित को शक है कि यह कोई गिरोह है जो लोगों को इस प्रकार के जाल में फंसा  कर पैसे ऐंठता है। बुधवार को भी उससे ड रा धम काकर पैसे लाने की डिमांड की है। उपरोक्त शिकायत पत्र के आधार पर बुधवार देर सांय कार्यवाही करते हुए उपमंडल पुलिस अधिकारी परवाणू के नेतृत्व में थाना परवाणु व धर्मपुर पुलिस की संयुक्त टीम ने होटल टीटीआर परवाणु के पास शिकायतकर्ता बहादुर सिंह से स्विफ्ट कार नंबर एचआर-26-सीसी -0112 में पैसे लेने आए दो युवकों प्रीतम सिंह पुत्र राम सिंह निवासी गांव सांपली खेडा डाकखाना ग्योंग तहसील व जिला कैथल हरियाणा आयु करीब 40 वर्ष व राज कुमार पुत्र महेन्द्र सिंह निवासी गांव खेड़ी राय वाली डाकखाना डांड तहसील पुंडीर जिला कैथल हरियाणा आयु करीब 40 वर्ष को शिकायत कर्ता द्वारा इन्हें दी गई 1 लाख रुपए की राशि सहित गि रफ्तार किया है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *