Connect with us

समाचार

पाकिस्तान का नियम-जब तक ये 4 स्थितियां पैदा नहीं होतीं वो किसी पर भी परमाणु ह’मला नहीं कर सकता

Published

on

भारत और पाकिस्तान में बढ़ते तनाव के बीच सोशल मीडिया पर दोनों ही देशों के लोगों ने परमाणु हथियारों को लेकर कई तरह की प्रतिक्रिया देनी भी शुरू कर दी है। सोशल मीडिया पर ऐसे बहुत से यूजर्स हैं जो बगैर किसी जानकारी के परमाणु हथियारों पर अपने अपने देश को लेकर बड़ी बड़ी बातें कर रहे हैं। वह इसपर कॉमेंट कर रहे हैं, ट्वीट कर रहे हैं लेकिन क्या किसी को सच में इस बात का आभास है कि अगर परमाणु हम’ला होता है तो उसका अंजाम क्या होगा?

एलेक्स वेलरस्टीन, हार्वर्ड से पढ़े इतिहासकार हैं और परमाणु हथियारों के इतिहास में स्पेशलाइज हैं और उनकी वेबसाइट पर परमाणु प्रभाव का नमूना भी मौजूद है। यह नमूना गूगल मैप के इंटिग्रेशन का इस्तेमाल करता है और इसके डाटा पॉइंट उन परमाणु विस्फोटन से एकत्रित किए गए हैं जो 1939 में हुए थे। इस लिस्ट में भारत के सबसे बड़े परीक्षित परमाणु हथियार 65 किलोटन बम और पाकिस्तान के सबसे बड़े परीक्षित परमाणु हथियार 45 किलोटन का भी जिक्र है। यह परमाणु हथियार एक ‘मोटे शख्स’ के दोगुने साइज के हैं, जैसे द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान नागासाकी पर अमेरिका ने छोड़े थे।

भारत ने 65 किलोटन परमाणु बम पाकिस्तान के कराची पर छोड़ा तो क्या होगा? यह सिम्यूलेटर (नमूना) दर्शाता है कि अगर ग्राउंड जीरो कराची का सर्राफा बाजार है तो मरने वाले लोगों की संख्या अनुमानतः 6,41,620 पार होगी। जो लोग घायल होंगे उनकी संख्या अनुमानतः 15,41,620 होगी। हालांकि यह सिर्फ एक अनुमान है, निर्णायक नहीं।

यह मॉडल परमाणु धमाकों के मानवीय प्रभावों को भी दिखाता है। यह मॉडल गूगल प्लेस एपीआई सर्च के जरिए काम करता है जो ग्राउंड जीरो लोकेशन के पास की जगहों को दिखाता है। यह उसी एल्गोरिदम पर काम करता है जिसपर गूगल मैप चलता है, जहां आप रेस्टोरेंट के बारे में जानकारी ले सकते हैं जहां आप संभवतः हो सकते हैं। इस सर्विस में आप अस्पताल या फायर स्टेशन के बारे में भी जानकारी ले सकते हैं। इस पूरे वेरिएबल के साथ अगर भारत और पाकिस्तान परमाणु युद्ध की तरफ बढ़ते हैं तो दोनों तरफ 6-6 लाख लोगों की जिंदगियां खत्म होंगी।

और क्या होगा अगर पाकिस्तान भारत पर परमाणु हम’ला करे तो? इसी तरह, अगर पाकिस्तान अपने 45 किलोटन के परमाणु हथियार से नई दिल्ली पर हम’ला करता है तो सिम्यूलेटर के हिसाब से यह अधिक प्रलयंकारी होगा। पाकिस्तान का परमाणु हथियार अगर कनॉट प्लेस पर गिरता है तो 6,56,070 लोग अपनी जिंदगी खो देंगे और 15,28,490 से भी ज्यादा लोग घायल होंगे। जामा मस्जिद, पुराना किला, संसद भवन और राष्ट्रपति भवन का अस्तित्व ही इस हमले से खत्म हो जाएगा।

यह सिम्यूलेटर रेडिएशन रेडियस, एयर ब्लास्ट रेडियस और थर्मल रेडिएशन रेडियस को भी कैलकुलेट करता है जिससे थर्ड डिग्री बर्न होता है। परमाणु हथियार किसी भी तरफ गिरे, इसके प्रभाव विनाशकारी हैं। इसलिए अगली बार अगर आप परमाणु हमले को लेकर अपनी शेखी बखारें तो पहले ये खबर ध्यान में रख लें, आप दह’शत से भर उठेंगे।

पाकिस्तान कब तक परमाणु हम’ला नहीं करेगा :  पाकिस्तान की तरफ से चार स्थितियां दी गई हैं जिसमें परमाणु युद्ध हो सकता है। : 1- अगर भारत पाकिस्तान की जमीन पर घुसकर उसके किसी बहुत बड़े हिस्से पर कब्जा कर ले। 2। अगर भारत पाकिस्तानी आर्मी का बड़ा हिस्सा बर्बाद कर देता है या एयरफोर्स पर हम’ला करता है और उसमें पाकिस्तानी एयरफोर्स का नुकसान होता है।

3-अगर भारत पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति खराब करने पर तुल जाए। भारत ने पाकिस्तान से MFN का दर्जा तो छीन लिया है, लेकिन किसी भी हालत में अर्थव्यवस्था को नुकसान नहीं पहुंचाया है। 4-अगर भारत पाकिस्तान की राजनीति में किसी तरह का दख्ल दे और सियासत को खराब करने पर तुल जाए। इस तरह की कोई चीज़ भी पाकिस्तान के साथ भारत ने नहीं की है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *