Connect with us

विशेष

पाकिस्तान के खिलाफ भारत की बड़ी कार्रवाई, POK में घुसकर जैश के कई ठिकानों को तबाह किया

Published

on

भारतीय वायुसेना ने सोमवार को पीओके में घुसकर कई आ’तंकी ठिकानों को तबाह कर दिया. पुलवामा ह’मले के बाद भारत ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चल रहे आ’तंकी कैंपों को निशाना बनाते हुए ब’मबारी की. सूत्रों के हवाले से खबर है कि भारतीय एयर फोर्स के 12 मिराज 2000 विमानों ने जैश के आंतकी ठिकानों पर 1000 किलों से ज्यादा विस्फो’टक गिराए. भारतीय वायुसेना ने आज सुबह 03.30 बजे ये बमबारी की. भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (Pok) में आ’तंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के ठिकानों को तबाह कर दिया है. पुलवामा ह’मले के बाद हुई इस कार्रवाई को पाकिस्तान ने भी स्वीकार कर लिया है.

पाकिस्तानी सेना ने स्वीकारा है कि भारतीय वायुसेना ने पीओके में दाखिल होकर कार्रवाई की है. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफ्फूर ने दावा किया कि भारतीय वायुसेना के विमानों ने लाइन ऑफ कंट्रोल का उल्लंघन किया है. पाक सेना के प्रवक्ता ने ट्वीट किया, ‘भारतीय वायुसेना ने एलओसी का उल्लंघन किया. हमने तुरंत जवाब दिया, जिसके बाद भारतीय वायुसेना के विमान वापस अपनी सीमा में लौट गए.’

इसके बाद एक अन्य ट्वीट में गफ्फूर लिखा.’भारतीय वायुसेना ने मुजफ्फराबाद सेक्टर से घुसने की कोशिश की, समय रहते ही पाकिस्तान एयरफोर्स ने जवाबी कार्रवाई की. जिसके बाद वह बालकोट की तरफ वापस लौट गया. किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है

पुलवामा हम’ले के बाद पाकिस्तान को लेकर भारत द्वारा उठाए गए सख्त रुख से बौखलाया पाकिस्तान आए दिन नए-नए बहाने और दावे कर रहा है. पाकिस्तान द्वारा भारत पर झूठे आरोप लगाने की फेहरिस्त में ताजा दावा पाक सेना के मेजर द्वारा किया गया है. गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतं’की हम’ले के बाद दोनों देशों के बीच तल्खी और बढ़ी है. भारत ने इस हम’ले के बाद ही पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का स्टे्टस छीन लिया है. जिसके बाद से बौखलाया पाक लगातार भारत पर ल’ड़ाई के उकसाने का आरोप लगा रहा है.

पाकिस्तान को अलग-थलग करने का भारत का सपना कभी पूरा नहीं होगा: कुरैशी
पुलवामा आ’तंकी हम’ले के बाद भारत-पाकिस्तान में बढ़ते तनाव के बीच पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने सोमवार को कहा कि भारत का पाकिस्तान को अलग-थलग करने का सपना कभी पूरा नहीं होगा.  गौरतलब है कि 14 फरवरी को आ’तंकी हम’ले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गये थे. जैश-ए-मोहम्मद ने हमले की जिम्मेदारी ली थी. कश्मीर मुद्दे को लेकर इस्लामाबाद में एक सम्मेलन को संबोधित करते हुये कुरैशी ने कहा कि आने वाले समय में कुछ विदेशी प्रतिनिधि पाकिस्तान आने वाले हैं. उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान, भारत के साथ संघर्ष के पक्ष में नहीं है.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *