fbpx
Connect with us

विशेष

पुलिस की कार्यवाही में आरोपियों की विडियो से सामने आया पुरा घटनाक्रम..

Published

on

हैदराबाद में महिला डॉक्टर से है वानियत के खिलाफ देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं. सड़कों पर उतरकर लोग महिला सुरक्षा पर सवाल कर रहे हैं. इधर पुलिस की जांच में कई खुलासे हुए हैं और आरोपियों का वीडियो और पूरी कुंडली सामने आ गई है.

पुलिस के मुताबिक 27 नवंबर की रात को महिला डॉक्टर को ट्रक ड्राइवर और उसके साथियों ने अग वा किया. आरोपी पीड़िता को सुनसान जगह पर ले गए और उसे जबरन शरा ब पिलाई और गैंगरे प की वा रदात को अंजाम दिया.

एक आरोपी ने मुंह और नाक दबाकर पीड़िता की जा न ली. इसके बाद वहां से 27 किलोमीटर दूर ले जाकर पेट्रोल डालकर उसका शव ज ला दिया. शव के पास ही पीड़िता का फोन, घड़ी सब छिपा दिया.

चारों आरोपी बचपन के दोस्त हैं. आरोपी मोहम्मद आरिफ ट्रक ड्राइवर है, बाकी तीनों क्लीनर हैं. आरोपियों में कोई 18 साल का, कोई 20 का तो कोई 22 का है.

आरोपी नंबर-1 नाम- आरिफ उम्र- 26 साल पढ़ाई- दसवीं पास

आरोपी नंबर-2 नाम-शिवा उम्र-20 साल

आरोपी नंबर-3 नाम-नवीन कुमार उम्र-20 साल नवीन और शिवा की आपस में रिश्तेदारी है.

आरोपी नंबर-4 नाम-चेन्ना केशवल्लु उम्र-21 साल परिवार खेती से गुजारा करता है. साल भरे पहले ही इसकी शादी हुई है.

पुलिस के मुताबिक शिवा ही सबके लिए शरा ब लाया था. आरिफ ने पीड़िता से पहली जबरदस्ती की. आरिफ, नवीन, शिवा तीनों मिलकर पीडिता को उठाकर सुनसान जगह ले गए. आरिफ ने ही मुंह दबाकर ह त्या की. उसी ने पेट्रोल छिड़का और शिवा ने आग लगाई.

हैदराबाद केस की जांच के दौरान जो खुलासे हुए हैं, उससे यही लग रहा है कि श राब के न शे में धुत्त आरोपियों ने खौफनाक वा रदात को ऐसे अंजाम दिया मानो कुछ हुआ ही ना हो. सब पीड़िता को मौत के हवाले कर आराम से घर चले गए. पुलिस को पीड़िता का शव शमशाबाद के बाहरी इलाके में मिला.

पुलिस की रिमांड कॉपी के अनुसार 27 नवंबर की रात 10 बजे से सुबह 4 बजे तक पूरी वा रदात को अंजाम दिया गया. पुलिस की गिरफ्त में आए चारों आरोपियों को 14 दिन की रिमांड पर भेज दिया गया है. मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलेगी.

देश भर में उबाल: डॉक्टर के साथ सामूहिक दुष्क र्म और फिर ह त्या के बाद शव जलाने की वीभत्स घटना से पूरे देश में गुस्सा है. हैदराबाद में जिस पुलिस थाने में इस वा रदात के आरोपियों को रखा गया है, उसकी भनक लोगों को लगी तो कुछ ही देर में सैकड़ों लोगों ने थाना घेर लिया.

हैदराबाद में फां सी की मांग: हैदराबाद से 50 किलोमीटर दूर इस कसबे के पुलिस थाने के सामने ‘हमें न्याय चाहिए’ का नारा लगाते हुए स्थानीय निवासियों ने धरना दिया, जिसमें महिलाएं और छात्र भी शामिल थे. वे आरोपियों को बिना पूछताछ और बिना सुनवाई के जल्द से जल्द फां सी पर लटकाने की मांग कर रहे थे.

दिल्ली में भी आक्रोश: घटना से देश की राजधानी दिल्ली में भी आक्रोश है. इस हैवा नियत के खिलाफ संसद के सामने अनु दुबे नाम की एक लड़की धरने पर बैठ गई और रोने लगी.

अनु दुबे के विरोध प्रदर्शन को निर्भया की मां का भी साथ मिला. निर्भया की मां ने कहा कि हैदराबाद की घटना ने फिर 2012 की यादें ताजा कर दी हैं.

बॉलीवुड ने भी की मांग: दिग्गज अभिनेता चिरंजीवी ने भी इस मामले में अपनी भावनाएं व्यक्त की हैं. उन्होंने एक वीडियो मैसेज में कहा, “ये तारीफ की बात है कि बहुत कम समय में चारों आरोपियों को धर दबोचा गया है. अब सड़क पर फां सी देना बिलकुल सही तरीका है उन लोगों में खौफ पैदा करने का, जो इस तरह की सोच रखते हैं.

अक्षय कुमार, शबाना आजमी और यामी गौतम जैसे कलाकारों द्वारा मामले पर प्रतिक्रिया देने के बाद सुपरस्टार सलमान खान की भी प्रतिक्रिया सामने आई है. उन्होंने कहा कि सभी को साथ मिलकर ये सब खत्म करने के बारे में सोचने की जरूरत है.

हैदराबाद की डॉक्टर को न्याय दिलाने की मुहिम तेज होती जा रही है. इसके लिए ट्विटर पर #RIPPriyankaReddy भी ट्रेंड कर रहा है

डॉक्टर से हैवानियत का गुस्सा और द र्द हर जगह छलक रहा है. लोग इतने भड़के हुए है कि ऑन द स्पॉट आरोपियों को बिना दलील-अपील के फां सी देने की मांग कर रहे हैं.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *