Connect with us

रिश्ते

बहन ने दिया भाई के 5वें बच्चे को जन्म, भाभी भी हुई खुश, प्रेग्नेंट ननद के साथ कराया था फोटोशूट

Published

on

भाई बहन के रिश्ते को हम सभी पवित्रता की नजरों से देखते आए हैं। कहा जाता है कि भाई बहन में इतना प्यार होता है कि वे एक दूसरे की खातिर कुछ भी कर सकते हैं। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी बहन से मिलाने जा रहे हैं जो अपने भाई की खुशी की खातिर उसके पांचवे बच्चे को जन्म देने को राजी हो गई। यह अजीब मामला अमेरिका के वॉशिंगटन का है। यहां एक बहन ने अपने भाई के 5वें बच्चे को जन्म दिया है।

हैरत की बात ये है कि बहन पहले से शादीशुदा है और उसके तीन बच्चे हैं। वहीं भाई भी शादीशुदा है और उसके चार बच्चे हैं। हालांकि भाई की पांचवें बच्चे की भी चाहत थी। उसका मानना था कि मेरे पांचवें बच्चे के आने पर ही परिवार पूरा होगा। लेकिन उसकी पत्नी मां नहीं बन पा रही थी। कपल ने बहुत प्रयास किया लेकिन वे फेल हो गए। इसके बाद बहन मदद को आगे आई और भाई के पांचवें बच्चे को जन्म देने की प्लानिंग की।

दरअसल यह बहन एक सरोगेट मदर बनी। मतलब इस प्रक्रिया में अंडाणु और शुक्राणु उसके भैया भाभी के ही थे लेकिन उसने बाद अपनी कोख में उस बच्चे को पाला है। आमतौर पर सरोगेसी (किराए की कोख) में किसी अंजान महिला को चुना जाता है। लेकिन इस केस में एक बहन ही अपनी भाई की खातिर सरोगेट मदर बन गई।

बहन का नाम हिल्दे पेरिंगर है और उसकी उम्र 27 वर्ष है। वहीं उनके भाई इवान शेली 35 के हैं जबकि उनकी बीवी केल्सेय 33 वर्ष की है। महिला की भाभी को कुछ मेडिकल समस्या के चलते 5वीं बार मां बनने में दिक्कत आ रही थी। यही वजह थी कि ननद अपनी भाभी की मदद को आगे आ गई। वैसे महिला की प्रेग्नेंसी में जितना भी खर्चा हुआ है वह उसके भाई ने ही उठाया है।

बताया जा रहा है कि कपल बीते साल से ही अपने पांचवें बच्चे के लिए कोशिश कर रहा था। जब उन्हें नेचुरल तरीके से सफलता नहीं मिली तो उन्होंने मेडिकल साइंस का सहारा लिया। शख्स की बहन ने जैसे ही बच्चे को जन्म दिया तो घर में खुशी का माहौल उमड़ पड़ा। हर किसी के चेहरे पर एक मुस्कान थी।

वैसे इस पूरे मामले पर आपकी क्या राय है? क्या आप अपने भाई के लिए या किसी और रिश्तेदार के लिए सरोगेट मदर बन सकती हैं? अपने जवाब हमे कमेंट बॉक्स में जरूर दें। पोस्ट पसंद आई हो तो शेयर करना न भूले।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *