Connect with us

विशेष

बालाकोट के चश्मदीद ने कहा, ‘बेहद खौफनाक आवाज, लगा कि ज लजला आ गया हो’

Published

on

भारतीय वायुसेना के विमानों ने मंगलवार तड़के पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों को निशाना बनाया। इस इलाके में मौजूद लोगों ने बीबीसी को बताया आंखों देखा हाल। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक भारतीय वायु सेना के ह’मले काफी खौफनाक थे, जिससे सोए लोगों की नींद टूट गई। जाबा टॉप बालाकोट निवासी मोहम्मद आदिल ने बीबीसी को बताया कि ध’माके इतने तेज थे कि जैसे कोई जलजला आ गया हो। उन्होंने कहा, “सुबह तीन बजे का टाइम था, आई। ऐसा लगा जलजला आया हो। हम रातभर नहीं सोए। पांच-दस मिनट बाद हमें पता चला कि धमाका हुआ है।”

मोहम्मद आदिल और वाजिद शाह

आदिल ने बताया कि पांच ध’माके एक ही समय हुए और कई जख्मी हो गए। फिर कुछ देर बाद आवाज आनी बंद हो गई। ‘सुबह हम देखने उस जगह गए जहां ध’माके हुए थे, वहां बड़े गड्ढे हो गए थे। कई मकान भी क्षतिग्रस्त हो गए थे। एक व्यक्ति जख्मी भी दिखा।’ भारत सरकार के विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया है कि इस ह’मले में विशेष तौर पर केवल जैश के शिविर को निशाना बनाया गया और विशेष ध्यान रखा गया कि आम लोग इसकी चपेट में ना आएं।

ये कैंप घने जंगलों में एक पहाड़ी पर था जो आम आबादी वाले इलाके से दूर है। बालाकोट के एक दूसरे प्रत्यक्षदर्शी वाजिद शाह ने बताया कि उन्होंने भी धमा’के की आवाज सुनी। उन्होंने कहा, ‘ऐसा लगा जैसे कि कोई राइफल से फा’यर कर रहा हो। तीन बार ध’माके की आवाज सुनाई दी, फिर खामोशी छा गई।’

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *