Connect with us

ऑटोमोबाइल

बिल्डर और कार डीलर DS Kulkarni की लक्ज़री गाड़ियां इस पुलिस थाने में सड़ रही हैं!

Published

on

अक्सर पुलिस बार-बार नियम तोड़ने वालों की गाड़ी ज़ब्त कर उसे अपनी हिरासत में ले लेती हैं. उन्हें बाद में नीलाम करने के लिए रखा जाता है लेकिन ये नीलामी अक्सर नहीं हो पाती. नीचे दी गयीं तस्वीरें एक ऐसा ही मामला दर्शाती हैं जहां महंगी हाई-एंड गाड़ियों को पुलिस स्टेशन में सड़ने के लिए छोड़ दिया गया है. ये Shivajinagar पुलिस स्टेशन के सामने का पार्किंग एरिया है और ये कार्स एक समय पर Deepak Sakharam Kulkarni (DSK) की और उनके परिवार एवं कंपनियों की शान हुआ करती थीं. अभी ये गाड़ियां यहाँ लगभग 1 साल से पड़ी हैं.

Dsk 1

जहां ऊपर की तस्वीरिन इन गाड़ियों की अभी की हालत को दर्शाती हैं, नीचे की तस्वीर तब की है जब इन गाड़ियों को ज़ब्त किया गया था. कुल 19 गाड़ियां जिसमें एक बाइक भी शामिल है, फिलहाल इस पुलिस स्टेशन पर मौजूद हैं. इन कार्स में एक लाल Porsche Cayenne, BMW 6 series, Audi Q5 और Toyota Camry के अलावे बाकी कार्स शामिल हैं. वो इस जगह पर एक साल से ज्यादा से हैं और इन तस्वीरों में उनके बिगड़ते हुए हालत को देख जा सकता है. इन कार्स पर से Porsche और BMW का बैज गायब है और उनके खुले में खड़े होने के चलते मौसम की मार साफ़ पता चल रही है.

Dsk 2

इन कार्स को रियल स्टेट के कारोबारी DSK पर लगे वित्तीय अनियमित्ता के आरोप के बाद ज़ब्त किया गया था. वो फिलहाल जेल में हैं. इस पुलिस स्टेशन में खड़ी दूसरी कार्स में 6 Toyota Innovas, एक Qualis और एक Hyundai Santro भी शामिल है. इनके अलावे यहाँ एक MV Agusta बाइक भी खड़ी है. ये ज़ब्त की हुई गाड़ियां उन 46 गाड़ियों का हिस्सा हैं जिनका सरकार ने 5 मई 2018 को 459 संपत्तियां, 276 बैंक अकाउंट और 46 गाड़ियों की ज़ब्ती की अधिसूचना में उल्लेख किया था.

Dsk 3

फिलहाल पुलिस ने यहाँ मौजूद सभी गाड़ियों की कीमत का आकलन नहीं किया है. लेकिन Porsche Cayenne, BMW 6 series और Audi Q5 से ही इनकी कीमत 2.5 करोड़ रूपए के पार जा सकती है. लाल Porsche Cayenne लेटेस्ट नहीं तो पुराना मॉडल भी नहीं है. भारत में Porche Cayenne की कीमत 1.19 करोड़ रूपए से शुरू होती है और 1.92 करोड़ रूपए तक जाती है. वहीँ काली BMW 6 series भी काफी महंगी गाड़ी है. DSK के वकील के मुताबिक़ उन्होंने गाड़ियों को बेचने की गुजारिश काफी पहले ही की थी.

नीलाम होने पर देनदारों के पैसे वापस किये जा सकते हैं और अगर इन्हें किसी कार प्रेमी ने खरीद लिया तो सौदा सबसे लिए फायदेमंद होगा. आखिरकार जुर्म इंसान से किया था, इन गाड़ियों ने नहीं.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *