Connect with us

समाचार

भारत आते ही अभिनंदन के साथ क्या क्या होगा…नहीं जानते होंगे आप- सबसे पहले IB वाले लेकर जाएंगे

Published

on

भारतीय पायलट अभिनंदन करीब 48 घंटे बाद पाकिस्‍तान से अपने वतन भारत की जमीन पर लौटेंगे। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं उनके साथ भारत में क्या क्या होगा। भारत आने के बाद वायु सेना अपनी मेडिकल टीम से सबसे पहले उनकी 100 प्रतिशत जांच कराएगी। अब तक इसके लिए उनके विशेषज्ञ नियुक्त भी कर दिए गए होंगे।

उसके बाद विंग कमांडर से पूछताछ होगी। इंटेलिजेंस डीब्रीफिंग होगी कि आपके साथ क्या हुआ, कैसा हुआ, वो पूरी तहकीकात की जाएगी। पाकिस्तान में कैसा व्यवहार हुआ, उन्होंने क्या पूछा और क्या बातचीत हुई, ये सब कार्रवाई होगी। फिर सरकार को रिपोर्ट पेश किया जाएगी। अगर भारत ये सोचता है कि कुछ आपत्तिजनक चीजें हुई हैं तो उन्हें अंतरराष्ट्रीय मंच पर पेश किया जाएगा।

पढ़िए, उनके दुश्‍मनों के हवाई जहाजों को खदेड़ने से लेकर उनकी रिहाई तक का सफर।

26 फरवरी मंगलवार की रात भारतीय वायुसेना की कार्रवाई से पाकिस्तान बौखला गया। उसकी वायुसेना देखती रह गई। मिराज लड़ाकू विमान आ’तंकी अड्डों पर कहर बरपा कर सुरक्षित वापस लौट आए। उसके बाद पाकिस्तान ने एक बड़ी चाल चली। जिसे भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन की जांबाजी ने नाकाम कर दिया।

27 फरवरी बुधवार: पाकिस्तान के कई लड़ाकू विमान तेजी से भारतीय सरहद की ओर बढ़ रहे थे। जिसमें आ’तंकवाद से लड़ने के लिए पाकिस्तान को अमेरिका से मिला F-16 लड़ाकू विमान था। भारतीय सरहद की ओर आता खतरा रडार पर साफ-साफ दिख रहा था।

भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने तुरंत मोर्चा संभाला। पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों ने पश्चिमी राजौरी से भारतीय वायुसीमा में घु’सपैठ की और सेना के अहम ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की, लेकिन चौकन्ने भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने दुश्मन के विमानोंको चारों ओर से घेर लिया। भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल और दुश्मन को ललकार रहे विमानों में से एक मिग-21 फाइटर जेट पर सवार थे- विंग कमांडर अभिनंदन। भारतीय विमानों ने पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों को खदेड़ना शुरू किया।

आसमान में लड़ाकू विमानों की भीषण जं’ग शुरू हुई। मिग-21 से विंग कमांडर अभिनंदन ने दुश्मनों को भागने पर मजबूर कर दिया। इस दौरान मिग-21 ने पाकिस्तान के एक F-16 फाइटर जेट को मार गिराया। आसमान में हुए इस जंग की चपेट में एक मिग-21 भी आया, जिस पर सवार थे- विंगकमांडर अभिनंदन। दरअसल, दुश्मनों के खदेड़ते हुए मिग-21 बाइसन में अब कुछ भी हो सकता था। ऐसे में विंग कमांडर अभिनंदन से पैराशूट से छलांग लगा दी और जब वे जमीन पर पहुंचे वे इलाका पीओके का था। पाकिस्तानी फौज ने विंग कमांडर अभिनंदन को पकड़ लिया। पाकिस्तान ने दावा किया कि उसकी हिरासत में दो IAF पायलट हैं।

पाकिस्तानी हवाई क्षेत्र में घुसकर एलओसी पर हमले किए जाने का दावा करने के कुछ घंटों बाद पाकिस्तान सेना ने एक वीडियो भी जारी किया जिसमें एक IAF पायलट को खुद को विंग कमांडर अभिनंदन के रूप में पहचानते हुए दिखाया गया।

विदेश मंत्रालय (MEA) ने एक बयान जारी कर अंतर्राष्ट्रीय मानवीय कानून और जिनेवा कन्वेंशन के नियमों के उल्लंघन की बात कही। विदेश मंत्रालय ने बाद में पाकिस्तान के कार्यवाहक उच्चायुक्त को भारत के खिलाफ पाकिस्तान द्वारा आ’क्रामकता के कारण किए गए कृत्य का विरोध करने के लिए बुलाया, जिसमें भारतीय वायु सेना द्वारा भारतीय वायु सेना का उल्लंघन और भारतीय सैन्य चौकियों को निशाना बनानाशामिल था।

पाकिस्तान द्वारा भारतीय वायु सेना के दो पायलटों को पकड़ने के कुछ घंटों बाद ही पाकिस्तानी रक्षा प्रवक्ता ने कहा कि उनकी हिरासत में केवल एक भारतीय पायलट था। पाकिस्तानी आधिकारिक मीडिया द्वारा जारी एक ताजा वीडियो में पायलट को यह कहते हुए दिखाया गया कि उसकापाकिस्तान सेना द्वारा बेहतर बर्ताव किया जा रहा है। मामले पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संबोधि‍त किया।

28 फरवरी गुरुवार : पाकिस्तान के विदेश मंत्री, शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि यदि भारत के साथ तनाव न बढ़े तो वह भारतीय वायुसेना के पायलट की वापसी पर विचार करने को तैयार हैं। भारत सरकार ने तत्काल भारतीय वायुसेना के पायलट की रिहाई की मांग की और कहा कि मामले में किसी सौदे का कोई सवाल ही नहीं है। भारतीय वायुसेना के पायलट के कब्जे के बाद अपने पहले बयान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा बाद में, एक आधिकारिक समारोह में, प्रधानमंत्री ने कहा, अभी-अभी अब एक पायलट प्रोजेक्ट पूरा हो गया।

अभी असली करना है। पहले तो प्रैक्‍टिस थी। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद में विंग कमांडर अभिनंदन वर्थमान को शुक्रवार को रिहा किए जाने का ऐलान किया। भारतीय सेना, वायु सेना और नौसेना ने शाम एक ज्‍वाइंट प्रेस कॉन्‍फ्रेंस की। जिसमें पाकिस्तान के झूठ को बेनकाब करने वाले सबूत दुनिया के सामने रखे गए।

सेना ने बताया कि भारतीय सीमा में पाकिस्तान का फाइटर प्लेन एफ-16 आया, और उसमें लगने वाले मिसाइल के टुकड़ेराजौरी में मिले। सेना ने बाकायदा उस मिसाइल के टुकड़े मीडिया को दिखाए। बता दें कि इससे पहले पाकिस्तान ने दावा किया था कि पाकिस्‍तान का कोई भी F-16 ऑपरेशन का हिस्सा नहीं था।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *