Connect with us

कोरोना वायरस

भारत की पहली कोरोना मरीज दोबारा संक्रमित, सरकार ने तीसरी लहर पर दी ये चेतावनी

Published

on

भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर भले ही कमजोर पड़ गई हो लेकिन खतरा अभी टला नहीं है. एक्सपर्ट्स लगातार तीसरी लहर को लेकर चेतावनी दे रहे हैं लेकिन लोगों में इसे लेकर लापरवाही साफ देखने को मिल रही है. कहीं लोग बिना मास्क लगाए बाजार घूम रहे हैं तो कहीं सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है. इस बीच खबर है कि भारत की पहली कोविड-19 पेशेंट (First Covid-19 Patient of  India) एक बार फिर वायरस से संक्रमित पाई गई हैं.

देश की पहली कोरोना पेशेंट को फिर हुआ Covid

Indias first covid patient tested positive again

केरल के त्रिशूर (Thrissur) की डीएमओ डॉक्टर के जे रीना (Thrissur DMO Dr K J Reena) ने बताया कि देश की पहली कोरोना पॉजिटिव पेशेंट एक बार फिर से वायरस की चपेट में आ गई. उन्होंने कहा कि उसकी RT-PCR जांच रिपोर्ट में संक्रमण की पुष्टि हुई जबकि एंटीजन टेस्ट में संक्रमण नहीं पाया गया. वह एसिंप्टोमेटिक है, उसमें कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई नहीं दिए.

ऐसे चला संक्रमण का पता

She was asymptomatic

डॉक्टर रीना ने बताया कि वह पढ़ाई के लिए नई दिल्ली जाने की तैयारी कर रही थी. इस दौरान उसके नमूनों की RT-PCR जांच की गई, जिसमें संक्रमण की पुष्टि हुई. वह फिलहाल होम आइसोलेशन में है और उसकी तबीयत ठीक है.

वुहान से आई थी मेडिकल की छात्रा

Indias first covid patient was returned from Wuhan

बता दें कि 30 जनवरी 2020 को वुहान यूनिवर्सिटी की मेडिकल की थर्ड ईयर की छात्रा कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई थी. सेमेस्टर की छुट्टियों में वह अपने घर आई थी तभी उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. वह देश की पहली कोविड-19 रोगी बन गई थी.

15 दिन बाद अस्पताल से मिली छुट्टी

Indias first covid patient was treated in Thrissur medical college in Kerala

इसके बाद त्रिशूर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में करीब तीन हफ्ते तक उसका इलाज चला था. दो बार उसकी जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उसके संक्रमण से उबरने की पुष्टि हुई और 20 फरवरी 2020 को उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

फिर तबाही मचा सकता है कोरोना

Health ministry VK Paul warns Against third wave of coronavirus

स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बार फिर कोरोना की तीसरी लहर को लेकर चेतावनी दी है. नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ वीके पॉल ने मंगलवार को कहा कि दुनिया में कोरोना वायरस की तीसरी लहर दिखाई दे रही है, हमारे देश में तीसरी वेव न आए इसके लिए हम सब को एक साथ मिलकर इससे लड़ना होगा.

इन देशों में तीसरी लहर की शुरुआत!

Corona's Third wave started in UK, Russia and bangladesh

उन्होंने कहा कि UK में केस कम होने के बाद फिर से बढ़ने लगे  हैं. रोजाना 34 हजार नए मामले रिपोर्ट हो रहे हैं. इसी तरह से रूस में भी कोरोना ने नए मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. वहां रोजाना 25 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं. पड़ोसी देश बांग्लादेश में भी तीसरी लहर की शुरुआत हो चुकी है. वहां रोजाना 13 हजार नए मामले सामने आ रहे हैं. इडोनेशिया में करीब 40 हजार केस दर्ज किए जा रहे हैं.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *