fbpx
Connect with us

विशेष

भारत के 5 ऐसे राजा जो रखते थे अजीब शौक-कोई करता था मर्दों से प्यार तो कोई था कुत्तों का दिवाना

Published

on

अब तो अधिकतर लोग सरकार के आदेशों को मानते भी नही हैं लेकिन पहले सभी लोग राजाओं के आदेशो को मानते थें और जो आदेश को नही मानता था.. उसको या तो बहुत बडा दण्ड दिया जाता था.. या फिर राज्य सीमा से बहार निकाल दिया जाता था।

पहले राजा और महाराजाओं राज्य पाने के लिए दूसो राज्य के राजाओं से युद्ध करते थें, राजा ही ही बल्कि रानियों ने भी अपने देश और अपनर प्रजा के लिए भी अपनी कुर्बानी दी और कईं युद्ध जीते है, लेकिन आज हम ऐसे राजाओं के बारे में आपको बतायेगे जिसको सुनकर आप हैरान हो जायेगें…

1-प्यार की पहचान को ताजमहल कहा जाता हैं। ताजमहल का निमार्ण शाहजहां ने अपनी पत्नी बेगम मुमताज की याद में करवाया था,जिससे ये पता चलता है शाहजहां अपनी पत्नी बेगम मुमताज से बहुत प्यार करते होंगे। लेकिन इसके बावजूद भी शाहजहां ने अपनी पहली पत्नी बेगम मुमताज का मृत्यु के बाद 8 शादियाँ और की थी।

2-भरतपुर के राजा किशन सिंह अपने समय के एक महान योद्धा थे, उनकी महानता के चर्चे हर जगह फैले हुए थे। राजा किशन सिंह की 40 पत्नियाँ थी, कहा जाता है कि राजा किशन सिंह को तैराकी का बहुत शौक था। इसलिए वो अपने राज्य के सभी लोगों को तैरनें की सलाह देते थे. इसी के चलते राजा किशन सिंह ने अपने लिए एक विशेष तालाब का निर्माण कराया। कहा जाता है कि जब किशन सिंह तालाब में नहाने के लिए जाते थें तो उनकी 40 पत्नियाँ बिना कपड़ों के वहां खड़ी उनका इंतजार किया करती थी।

3-जूनागढ़ के एक नवाब के पास लगभग 800 कुत्तों की फौज थी और हर कुत्ते की देखभाल के लिए उन्होंने एक सैनिक नियुक्त किया था. जिसके बाद दो कुत्तों की उन्होंने शादी करवाने की सोची और उस शादी में पैसा पानी की तरह बहा दिया।

4-राजा भूपिंदर सिंह के 88 बच्चे थे, इसके इलावा उनके महल में कई महिलाएं भी थीं.. हर साल राजा भूपिंदर बिना कपड़ो के पूरे राज्य में अपनी झांकी निकाला करते थे ताकि लोगों को उनके बलवान और स्वस्थ्य शरीर के बारे में पता चल सके, राजा भूपिंदर सिंह पंजाब राज्य के पटियाला शहर के महाराज थे।

5-कुमार मानवेन्द्र सिंह पूरे देश में सिर्फ एक ही ऐसे राजा थें, जिन्होंने अपने गे होने की बात खुद ही स्वीकार की थी। कुमार मानवेन्द्र सिंह गुजरात राजकोट के कुमार थे। वे बहुत ही महान और दयालु थे।. उन्होने अपने काल में समलैंगिक लोगों के बहुत कार्य किए। उनके इतिहास ने बहुत से विदवानों को प्रेरित किया था।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *