Connect with us

कोरोना वायरस

भारत में फिर लगेगा लॉकडाउन! केंद्र सरकार के कोविड-19 टास्क फोर्स के कई सदस्यों ने दिया सुझाव

Published

on

भारत में फिर लगेगा लॉकडाउन! केंद्र सरकार के कोविड-19 टास्क फोर्स के कई सदस्यों ने दिया सुझाव

भारत में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच लॉकडाउन लगाए जाने की चर्चा तेजकेंद्र सरकार के कोविड-19 टास्क फोर्स के कुछ सदस्यों ने दिया है लॉकडाउन लगाने का सुझावविशेषज्ञों के अनुसार अगर दो हफ्ते भी संक्रमण को रोकने में कामयाबी मिली तो नए कोरोना केस घट सकते हैं

भारत में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच केंद्र को इस महामारी पर सुझाव देने वाली विशेषज्ञों से लैस कोविड-19 टास्क फोर्स के कुछ सदस्यों ने पूरे देश में एक बार फिर लॉकडाउन लगाने की सलाह दी है।

Sunday Lockdown in UP not wearing mask first with a fine of 1000 rupees and  then 10000 rupees

इंडियन एक्स्प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार टास्क फोर्स के एक सदस्य ने बताया, ‘कोविड-19 टास्क फोर्स पिछले कुछ हफ्तों से काफी जोर देकर इस संबंध में अपनी बात रख रहा है। हमें लोगों को बताना चाहिए कि एक लॉकडाउन की इस समय जरूरत है।’

सदस्य के मुताबित, ‘ये एक राष्ट्रीय लॉकडाउन होगा बजाय उसके जो हम अभी विभिन्न राज्यों में टुकड़ो-टुकड़ों में कर रहे हैं।’

Lockdown side effect: desperation on face on day labourers

पीएम मोदी ने लॉकडाउन को बताया था आखिरी विकल्प

देश में लॉकडाउन की बात एक बार फिर से उस समय उठ रही है जब पीएम मोदी ने 20 अप्रैल को देश के नाम अपने संबोधन में ये कहा था कि लॉकडाउन को आखिरी विकल्प के तौर पर देखना चाहिए।

पीएम मोदी ने जिस दिन देश को संबोधित किया था, उसी दिन कोरोना के भारत में 2 लाख 59 हजार 170 नए मामले आए थे और 1761 लोगों की मौत हुई थी। वहीं, ताजा अपडेट के अनुसार शनिवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि पिछले 24 घंटे में 4 लाख से अधिक नए केस रिपोर्ट हुए हैं।

Delhi Lockdown: कैब-मेट्रो, होम डिलिवरी से दुकान तक, जानें 6 दिन की  'तालाबंदी' से जुड़ी हर जरूरी बात - Delhi one week lockdown full details  update cab service food delivery corona virus -

यहीं नहीं इसी अवधि में 3500 से ज्यादा लोगों की मौत भी कोरोना से हुई है। टास्ट फोर्स के सदस्य के अनुसार, ‘हम सुरंग के गलत छोड़ की ओर देख रहे हैं। स्वास्थ्य संबंधी सुविधाओं और ढांचों को अंनतकाल के लिए नहीं खींचा जा सकता है। ऑक्सीजन सप्लाई को बढ़ाया गया है लेकिन फिर भी देश में इसकी कमी है। ये साफ है कि हमें केस घटाने होंगे।’

‘कोरोना संक्रमण को दो हफ्ते फैलने से रोकना होगा’
टास्क फोर्स के सदस्य के अनुसार, ‘ये एक इंसान से दूसरे इंसान में फैल रहा है। कम से कम दो हफ्तों तक अगर हम उसे रोकने में कामयाब हुए तो कम केस को कम करने में कामयाब रहेंगे। इससे मृत्यु की संख्या में भी कमी आएगी और स्वास्थ्य सुविधाओं को ठीक करने का कुछ और समय मिल जाएगा।’

बता दें कि फिलहाल पूरे देश में भले ही लॉकडाउन की घोषणा नहीं हुआ है लेकिन कई राज्यों में कड़े प्रतिबंध लागू हैं। दिल्ली और महाराष्ट्र में कुछ रियायतों के साथ लॉकडाउन है। वहीं कर्नाटक में सभी पब्लिक और प्राइवेट ट्रांसपोर्ट को भी बंद रखा गया है। राशन की दुकानों को केवल सुबह 6 से 10 बजे के बीच खोलने की इजाजत है।

गुजरात में भी 29 शहरों में नाइट कर्फ्यू लागू है। पश्चिम बंगाल में भी आंशिक लॉकडाउन की घोषणा की गई है। ऐसे ही यूपी, असम, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, राजस्थान जैसे राज्यों में वीकेंड लॉकडाउन या नाइट कर्फ्यू लागू है।

 

 

Source : Lokmatnews

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *