Connect with us

विशेष

महिला बोली-मेरा पति मुझे प्यार नहीं करता,मैं तुम्हारे साथ रहूंगी, रात बिताकर बोली-अब लाओ 23 लाख

Published

on

दिव्यांग को प्यार के जाल में फंसाकर शादीशुदा महिला ने उसके 23 लाख रुपये हड़पने लिए।

महिला को कोतवाली नगर पुलिस ने पति के साथ गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों से पुलिस ने पांच लाख 68 हजार रुपये नकद, दो लाख कीमत के जेवर, चार मंहगे फोन, पीड़ित का एटीएम कार्ड और पासबुक भी बरामद किए हैं। आरोपित पति-पत्नी को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।

कोतवाली नगर इंस्पेक्टर बीबीडी जुयाल ने बताया कि कर्ण विजय सिंह निवासी 30 मोहनी रोड दिव्यांग हैं। उनकी मुलाकात वर्ष 2010 में किसी एनजीओ में काम करने वाली शिखा सक्सेना नाम की महिला से हुई। महिला को बातचीत करने पर पता चला कि कर्ण विजय के पास बहुत संपत्ति और पैसा है।

इसलिए महिला ने उससे जान पहचान बढ़ानी शुरू कर दी। इसके बाद वह अक्सर पीड़ित के पास आने-जाने लगी और प्यार के जाल में फंसाकर विश्वास जीतने के लिए उनकी देखभाल करने लगी। जिससे पीड़ित का विश्वास आरोपित पर बन गया।

इसी बीच महिला की शादी हो गई, लेकिन उसने यह बात कर्ण को नहीं बताई। महिला की ससुराल में आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। इसके बाद महिला ने अपने पति को कर्ण विजय के बारे में बताया और उसके पैसे हड़पने की योजना बनाई।

आरोपित महिला को पीड़ित के दो म्यूचुअल फंड्स की जानकारी थी। इसलिए उसने पीड़ित को विश्वास में लेकर आढ़त बाजार मे वर्ष 2015 में खाता खुलवाया और उसकी पासबुक व एटीएम अपने पास रख लिया। इसके बाद मौका पाकर म्यूचुअल फंड्स के ऑफिस से एक फॉर्म लाकर उस पर धोखे से कर्ण विजय के हस्ताक्षर करवाकर फंड की कुल रकम 23 लाख रुपये उस एकाउंट में ट्रासफर करा लिए।

बाद में दोनों पति-पत्नी एटीएम के जरिये धीरे-धीरे रकम निकालते रहे। पासबुक व एटीएम महिला के पास होने और मोबाइल नंबर भी महिला का होने के कारण पीड़ित को इसका पता नहीं चल पाया।

चौकी प्रभारी लक्खीबाग प्रदीप रावत ने बताया कि आरोपितों ने इस पैसे से एक कंसलटेंट एजेंसी खोल ली और कुछ पैसे से ज्वेलरी और मंहगे मोबाइल खरीद लिए।

पीड़ित को जब इस बात का पता चला तो उसकी बहन की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपितों की खोजबीन शुरू कर दी। इसी दौरान पता चला कि उक्त महिला शादीशुदा है और अपने पति के साथ सुभाषनगर हरिद्वार में किराये के मकान में रह रही है।

जिस पर पुलिस ने दबिश दी और आरोपित शिखा सक्सेना व उसके पति अमित कुमार सक्सेना निवासी मंडी चौक अमरोहा हाल पता सुभाषनगर थाना रानीपुर, हरिद्वार को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में दोनों ने जुर्म कबूल किया। जिसके बाद उनकी निशानदेही पर धोखे से प्राप्त की गई पांच लाख 68 हजार रुपये की नकदी, लगभग दो लाख की ज्वेलरी व चार मंहगे फोन बरामद कर लिए।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *