Connect with us

विशेष

महिला बोली-हम कश्मीरियों के लिए भगवान से कम नहीं भारतीय सेना,हर किसी को पढ़नी चाहिए इसकी कहानी

Published

on

 जम्मू-कश्मीर में पिछले लंबे समय से जारा हिं सा के बीच आम लोग सेना पर कई तरह के गंभीर आ रोप लगाते रहे हैं जो सेना के जवानों के सीने को छलनी कर देती है। लेकिन इसके बाद भी सेना के जवान स्थानीय लोगों की मदद करते ही रहे हैं और जब कभी ऐसी तस्वीर भी सामने आती है, जो वाकई इस बात का ऐहसास करती है कि सेना के जवान हर कीमत पर राज्य की जनता की मदद करते हैं।

इस बीच एक ऐसी खबर आई है जो सेना पर आ रोप लगाने वाले नागरिकों की बंद आंखे खोल सकती है। दरअसल, यहां नियंत्रण रेखा यानी एलओसी के पास दूर-दराज के गांव की एक महिला ने सेना के एम्बुलेंस में अपने बच्चे को जन्म दिया है। बताया जाता है कि दूर-दराज के गांव में रहने वाली एक गर्भवती महिला की हालत अचान से खराब होने लगी जिसके बाद उसे सेना की एम्बुलेंस से अस्पताल ले जाया जा रहा था।

सेना के प्रवक्ता के अनुसार, प्रसव पीड़ा के कारण एक महिला की स्थिति खराब होने के बाद दूर-दराज के एक गांव के स्थानीय लोगों ने रात के समय एलओसी पर सेना के एक शिविर से संपर्क किया। जिसके बाद सेना का एक डॉक्टर अपनी एक टीम के साथ महिला के घर पहुंचे। यहां महिला की गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने उसे तत्काल राजौरी स्थित एक अस्पताल ले जाने का फैसला किया।


इसी बीच अस्पताल ले जाने के दौरान महिला ने एम्बुलेंस में एक बच्ची को जन्म दिया। ताजा जानकारी के अनुसार महिला और उसका नवजात बच्चा दोनों स्वस्थ्य हैं। सेना के इस मानवीय व्यवहार की जितनी भी प्रशंसा की जाए कम मालूम पड़ती है खास कर ऐसे क्षेत्र में जहां सेना पर स्थानी लोग अक्सर ह मला करते रहे हैं।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *