Connect with us

लाइफ स्टाइल

मात्र 24 साल की उम्र में सरपंच बनी ये लड़की… बदलकर रख दी पूरे गांव की तस्वीर

Published

on

राजस्थान के भरतपुर जिले के मेवात क्षेत्र में एक MBBS महिला डॉक्टर ने सरपंच बनकर इलाके में मिशाल पैदा की है। बता दें कि महिला डॉक्टर हरियाणा और मेवात के किसी एरिया से चुनाव लड़ना चाहती हैं।

Image result for शहनाज सरपंच

उनके मुताबिक उनका उद्देश्य प्लान्ड तरीके से क्षेत्र के विकास पर है। महिला सरपंच की पूरी फैमिली राजनीति में है और वो दादा की सीट पर सरपंच बनी हैं।

 कौन है ये MBBS महिला सरपंच

youngest mbbs sarpanch in rajasthan SHAHNAZ KHAN

  • महिला सरपंच का नाम शहनाज खान है जो कि 24 साल की हैं।
  • शहनाज अपने इलाके में लड़कियों की शिक्षा पर जोर देना चाहती हैं।
  • शहनाज ने 5th तक पढ़ाई गुरूग्राम के श्री राम स्कूल से की और 6th से 12th की पढ़ाई मारूति कुंज से की है।
  • उसके बाद शहनाज उत्तरप्रदेश के मुरादाबाद से MBBS कर रही हैं।

Related image

4th ईयर में है शहनाज

जानकारी के मुताबिक शहनाज MBBS के चौथे साल में हैं और वे अगले महीने से हॉस्पिटल में इंटर्नशिप स्टार्ट करेंगी।

youngest mbbs sarpanch in rajasthan SHAHNAZ KHAN

उन्होंने सरपंच के चुनाव को 195 वोटों से जीता और राजस्थान की पहली महिला MBBS डॉक्टर सरपंच बनीं।

youngest mbbs sarpanch in rajasthan SHAHNAZ KHAN

शहनाज के नाना पंजाब,राजस्थान और हरियाणा के केबिनेट मंत्री रहे थे और सांसद भी रहे थे।

youngest mbbs sarpanch in rajasthan SHAHNAZ KHAN

शहनाज भरतपुर के कामां पंचायत की सरपंच बनीं हैं।

youngest mbbs sarpanch in rajasthan SHAHNAZ KHAN

इसलिए चुना राजनीति का रास्ता

शहनाज ने बताया कि जहां से उनके दादा 55 साल तक सरपंच थे वहीं से वहीं से वे चुनाव जीती हैं।

youngest mbbs sarpanch in rajasthan SHAHNAZ KHAN

शहनाज के दादा को फर्जी सर्टिफिकेट इश्यू करने का आरोप था जिस कारण सरपंच चुनाव रद्द कर दिया गया था।

फिर शहनाज के दादा के बाद उस सीट को लेकर घर में बात शुरू हो गई थी कि कौन चुनाव लड़ेगा इस बात पर

youngest mbbs sarpanch in rajasthan SHAHNAZ KHAN

काफी देर बाद फैसला हुआ कि शहनाज ही इस सीट पर सरपंच का चुनाव लड़ेंगी।

Image result for शहनाज सरपंच

जानकारी के मुताबिक शहनाज की पूरी फैमिली राजनीति में ही है पिता गांव के प्रधान, मां विधायक,संसदीय सचिव भी रह चुकी हैं।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *