Connect with us

विशेष

मोदी से मिली छूट के बाद सेना का सबसे बड़ा एक्शन, कश्मीर से 23 संदिग्ध आ’तंकी गिरफ्तार

Published

on

‘पुलवामा में हुए आ’तंकी हम’ले के बाद से ही सुरक्षाबलों ने जम्मू-कश्मीर में आ’तंकियों के खिलाफ एक्शन शुरू कर दिया है। एक्शन में बड़े आ’तंकियों को ही नहीं खत्म किया जा रहा है,

बल्कि कश्मीर में ग्राउंड जीरो पर मौजूद उनके साथियों को भी आ’तंकी खत्म कर रहे हैं। इसी एक्शन में 23 संदिग्ध आ’तंकियों को हिरासत में लिया गया है, इनका संबंध पुलवामा आ’तंकी ह’मले से होने की आशंका है।

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की खबर के मुताबिक, भारतीय सुरक्षाबलों ने जिन संदिग्धों को हिरासत में लिया है वह सभी जैश-ए-मोहम्मद जैसे आ’तंकी संगठनों के संबंध में थे।

गौरतलब है कि 14 फरवरी को पुलवामा में आत्मघाती ह’मले में 40 जवान शहीद हो गए हैं। इस आ’तंकी हमले के बाद से ही पूरे देश में आक्रोश है, लोग सड़कों पर उतर कर पाकिस्तान के खिलाफ एक्शन की मांग कर रहे हैं। और सरकार से गुहार लगा रहे हैं कि पाकिस्तान में बैठे आ’तंकियों को मौ’त के घाट उतार दिया जाए।

रॉयटर्स की खबर के अनुसार, भारत की नेशनल जांच एजेंसी (NIA) ने रविवार को इन सभी 23 संदिग्धों से पूछताछ की। सूत्रों की मानें, तो इन संदिग्धों के जरिए सुरक्षाबलों की कोशिश की है, कश्मीर में मौजूद जैश के सरगनाओं तक पहुंचा जाए।

सुरक्षाबलों की नजर इस समय जैश-ए-मोहम्मद का कमांडर मोहम्मद उमर पर है, जो पुलवामा आ’तंकी हमलों के मुख्य साजिशकर्ताओं में से एक है। मोहम्मद उमर ने ही आदिल अहमद डार को आ’तंकी बनने के लिए उकसाया था।

गौरतलब है कि सोमवार सुबह भी सुरक्षाबलों ने पुलवामा जिले में सर्च ऑपरेशन चलाया। यहां पर सुरक्षाबलों और आ’तंकियों के बीच मुठभे’ड़ चली, जिसमें 4 जवान शहीद हो हुए। ये सर्च ऑपरेशन 3-4 आ’तंकियों की तलाश में था, खबर थी कि कुछ बड़े आ’तंकी यहां छिपे हैं।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *