Connect with us

देश

लद्दाख में पकड़ाया चीनी सैनिक जासूस नहीं, भटक कर LAC के पार आया, भारतीय सेना जल्द करेगी वापस

Published

on

भारत और चीन के बीच लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर जारी तनाव के बीच सोमवार सुबह लद्दाख के डेमचोक में पकड़ा गया चीन के पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) का सैनिक कोई जासूस नहीं है। वह रास्ता भटक कर इस पार आ गया था। भारतीय सेना ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि उसे सारी प्रक्रिया पूरी करने के बाद चीन को वापस सौंप दिया जाएगा।

भारतीय सेना ने कहा कि पीएलए जवान की पहचान कॉर्पोरल वांग हां लॉन्ग के रूप में की गई है, जो पूर्वी लद्दाख के डेमचोक सेक्टर में एलएसी के इस पार पकड़ा गया है। उसे अत्यधिक ऊंचाई और कठोर जलवायु परिस्थितियों से बचाने के लिए चिकित्सा सहायता, भोजन और गर्म कपड़े प्रदान किए गए। सेना ने कहा कि लापता सैनिक के ठिकाने के बारे में पीएलए से भी अनुरोध मिला था। स्थापित प्रोटोकॉल के अनुसार, औपचारिकताओं के बाद उसे चुशुल-मोल्डो बैठक बिंदु पर चीनी अधिकारियों को वापस कर दिया जाएगा।

भारतीय सेना ने बताया कि हिरासत में ले लिए जाने के बाद उससे पूछताछ की गई । उससे भारतीय सीमा क्षेत्र में आने की वजह पूछी गई। सेना ने जासूसी एंगल से भी उसकी पड़ताल की। बाद में सबकुछ स्पष्ट होने पर सेना ने उसके जासूस होने के कयासों को खारिज कर दिया और उसे वापस भेजने का फैसला लिया है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.