fbpx
Connect with us

विशेष

शार्क को टक्कर देती है छत्तीसगढ़ की 150 किलो की मछली, गांव वाले कुल्हाड़ी से काटकर करते हैं बंटवारा

Published

on

नई दिल्ली। भारी भरकम मछली (Fish) का नाम सुनते ही शार्क जैसी बड़ी मछली का ही नाम ध्यान आता है, लेकिन छत्तीसगढ़ में पाई जाने वाली एक मछली दूसरों को कांटे की टक्कर देती हैं। इस मछली का नाम कैटफिश (Catfish) है। इनका वजन 150 किलोग्राम से भी ज्यादा होता है। इतने बड़े आकार की वजह से गांव के लोग इसे कुल्हाड़ी से काटकर बंटवारा करते हैं।

स्थानीय भाषा में मछली का नाम बोध है। ये छत्तीसगढ़ के इंद्रवाती नदी में पाई जाती हैै। इन मछलियों की प्रजाति लगातार विलुप्त होने के कगार पर पहुंच गई। है। क्योंकि इन्हें मछुवारे अपनी आजीविका के लिए पकड़ते हैं और बेच देते हैं।

आदमखोर कुत्तों ने जिंदा शख्स पर बोला धावा, नोंच-नोंचकर खा गए मांस

machli.jpg

इस मछली को बस्तर का शार्क भी कहा जाता है। बोध मछली का वैज्ञानिक नाम बोमरियस है। चूंकि यह मछली बिना पानी के भी लंबे समय तक जीवित रह सकती है इसलिए कई खरीदार इसे जिंदा ही खरीद लेते हैं। ये मछली इतनी ज्यादा बड़ी होती है कि इसे अगर कोई गांव वाला पकड़ता है तो कुल्हाड़ी से काटकर इसका बंटवारा करता है। ठीक उसी तरह मछुआरे भी काटकर ही इसे बेचते हैं।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *