fbpx
Connect with us

बॉलीवुड

श्रीदेवी की मौत को दिल्ली के पूर्व ACP भी बता चुके हैं सोची समझी ह त्या, उस वक्त दिए थे ये 5 सबूत

Published

on

श्रीदेवी (Sridevi) के निधन को डेढ़ साल से ज्यादा का वक्त बीत चुका है। जिस वक्त श्रीदेवी का निधन हुआ था उस वक्त कई तरह की खबरें आईं लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दावा किया गया कि बाथटब में डूबने की वजह से एक्ट्रेस की मौत हुई। इस बीच हाल ही में केरल डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस ऋषिराज सिंह ने जो दावा किया है उसने एक बार फिर से सनसनी मचा दी है। डायरेक्टर के अनुसार श्रीदेवी की मौत बाथटब में डूबने की वजह से नहीं बल्कि ह त्या है। हालांकि इससे पहले भी दिल्ली के पूर्व ACP श्रीदेवी की मौत को सोची समझी ह त्या कह चुके हैं। जानिए एसीपी के वो 5 दावे जो इशारा करते हैं कि श्रीदेवी की मौत एक प्लानिंग का हिस्सा थी।

Sridevi and Former Delhi ACP Ved Bhushan

1. दिल्ली के पूर्व एसीपी वेद भूषण ने दावा किया था श्रीदेवी की मौत के बाद होटल जुमेराह एमिरेट्स ने फ्रंट स्टाफ को बदल दिया गया और जो नया स्टाफ आया है उसे इस मामले में चुप रहने को कहा था। स्टाफ को यह निर्देश भी दिया गया था कि जिस रूम में श्रीदेवी की मौत हुई वह किसी को नहीं देना है। यहां तक कि होटल में प्राइवेट वीडियोग्राफी पर भी रोक लगा दी गई थी। इसके बावजूद वो किसी तरह होटल की वीडियोग्राफी करके लाए थे। उनका कहना है कि अगर श्रीदेवी की मौत सामान्य थी तो क्यों होटल के फ्रंट स्टाफ को बदला गया?

वेद भूषण

2. जांच एजेंसी ने कहा था कि वर्ल्डवाइड इंवेस्टिगेशन का जो वैज्ञानिक तरीका होता है उसे फॉलो ही नहीं किया गया। न श्रीदेवी की कॉल डिटेल निकलवाई गई और न ही बोनी कपूर की कॉल डिटेल निकलवाने की जरुरत समझी गई। यही नहीं ब्लड रिपोर्ट पर भी चर्चा नहीं की गई और न ही लंग्स कंडीशन की। जब कोई पानी में डूबता है तो उसके लंग्स में पानी जाता है। आखिर कोई यह क्यों नहीं बता रहा कि कितना पानी श्रीदेवी की बॉडी के अंदर गया?

श्रीदेवी

3. भूषण ने कहा कि ‘पुलिस जब जांच करती है तो पता लगाने की कोशिश करती है कि मौत से फायदा किसको हो सकता है? अगर श्रीदेवी की मौत हो जाती है तो उनकी प्रॉपर्टी किसे मिलेगी? मौत के बाद इंश्योरेंस कौन क्लेम करेगा? पुलिस ने आखिर इस एंगल को लेकर जांच क्यों नहीं की?’ गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले फिल्ममेकर सुनील सिंह की ओर से सुप्रीम कोर्ट में कहा गया था कि ओमान में श्रीदेवी के नाम पर 240 करोड़ का बीमा हुआ था और उसके क्लेम के लिए उनकी मौत दुबई में होनी जरूरी थी।

वेद भूषण

4. वेद भूषण ने बताया था कि दुबई पुलिस ने श्रीदेवी की मौत के बाद जो जांच की गई थी वह महज खानापूर्ति भर है। वेद भूषण ने दुबई पुलिस द्वारा जारी किए गए डेथ सर्टिफिकेट पर भी सवाल उठाया था। भूषण के मुताबिक, उन्होंने जुमेराह एमिरेस्ट्स जाकर वहां के स्टाफ से पूछा कि श्रीदेवी की मौत वाले दिन कौन-कौन होटल में मौजूद था? सीसीटीवी की क्या पोजिशन थी? लेकिन न तो होटल स्टाफ और न ही दुबई पुलिस उन्हें कुछ बताने के लिए तैयार हुई।

Sridevi and Boney Kapoor

5. वेद भूषण की मानें तो उनकी जांच एजेंसी की टीम ने होटल में जाकर रूम नंबर 2208 में श्रीदेवी की मौत का सीन री-क्रिएट किया। गौरतलब है कि श्रीदेवी की मौत होटल के रूम नंबर 2201 में हुई थी जो इसके नीचे वाला रूम है। पुलिस सॉल्यूशन इंडिया की मानें तो होटल में उन्हें उस रूम में जाने की इजाजत नहीं दी गई।

 

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *