fbpx
Connect with us

विशेष

संबंध बनाने के बाद जरूर करना चाहिए ये एक काम..हर पति-पत्नी को होनी चाहिए इसकी जानकारी

Published

on

हिन्दू संभ्यता के अनुसार, वैसे तो बहुत सी बातों को अनिवार्य माना गया है और उसमें से सबसे महत्वपूर्ण है मन के साथ- साथ तन की स्वच्छता रखना। शास्त्रों की माने तो व्यक्ति को सुबह जल्दी उठकर स्नान कर खुद को और घर को पवित्र कर लेना चाहिए। अगर इन सब बातों से हटकर बात करें तो महारथी आचार्य चाणक्य ने भी इस विषय मे अपने कुछ ज्ञान प्रकट किए हैं। उनमें से एक ये है कि व्यक्ति को संबंध बनाने के बाद स्नान करना अनिवार्य होता है।

इतना ही नहीं बल्कि ऐसे बहुत से मौके होते हैं जिसे निपटाने के बाद इंसान को स्नान ज़रुर करना चाहिए। ऐसा करने के पीछे क्या कारण है वो शायद आप नहीं जानते होंगे, इसीलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि जीवन के वो कौनसे अवसर है जब व्यक्ति को स्नान करना आनिवार्य है –

संभोग के बाद : आचार्य चाणक्य के अनुसार शारीरिक संबंध बनाने के बाद स्त्री व पुरुष दोनों को अवश्य नहाना चाहिए। क्योंकि, इस कार्य के बाद दोनों ही शरीर अपवित्र हो जाते है और जब तक वे खुद को शुद्ध नहीं कर लेते किसी भी काम को करने के लिए वे समर्थ नहीं माने जाते।

संभोग के बाद स्नान कर के ही वे किसी भी कार्य करने के लिए शामिल हो। आपको बता दें कि चाणक्य के अनुसार धर्म क्रिया के बाद व्यक्ति को सबसे पहले नहाना चाहिए। उनका कहना था कि व्यक्ति को स्नान के बाद घर की साफ- सफाई भी नहीं करनी चाहिए।

तेल मालिश : चाणक्य के नियमानुसार हर व्यक्ति को सप्ताह में एक बार पूरे शरीर पर तेल की मालिश करनी चाहिए और फिर स्नान के बाद ही किसी काम को हाथ लगाना चाहिए।

बाल कटवाने के बाद : बाल व नाखून के कटने के बाद वे मृत के समान हो जाते हैं और ऐसी चीज़ों को छुने के बाद इंसान को स्नान अवश्य करना चाहिए। वैसे विज्ञान के अनुसार भी अगर ये बाल आपके शरीर पर ज़्यादा समय तक रह गए, तो ये आपको बीमार कर सकते हैं।

शवयात्रा में शामिल होने के बाद : किसी भी शव के जलने के बाद उसमें से हानीकारक तत्व निकलते हैं और आस- पास खड़े लोगों में प्रवेश होने लगते हैं। इनसे बचने के लिए जरुरी है कि आप वहां से लौटते ही स्नान करें।

ग्रहण के बाद : हिन्दू संस्कृति में चंद ग्रहण व सूर्य ग्रहण के बाद स्नान करना शुभ माना गया है। इसके अलावा भोजन के पहले स्नान करना भी आपकी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है।

मृत शरीर के स्पर्श के बाद : किसी भी व्यक्ति के मौत के बाद उसके शरीर की प्रतिपोधक शक्तियां समाप्त हो जाती है और वह बीमारियों का घर बनने लगता है। ऐसा में आपका उसे छुना आपके शरीर में तरह- तरह खतरनाक जीवाणुओं को निमंत्रण दे सकता है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *