Connect with us

विशेष

हिमाचल में बारिश का कहर, NH-3 सहित 323 सड़कें बंद,

Published

on

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश ने खूब तबाही मचाई है। रातभर हुई बारिश के कारण 10 लोगों की मौत हो गई है। प्रदेश में 429 सड़कें व 13 राष्‍ट्रीय राजमार्ग बंद हो गए हैं। कुल्‍लू में दो पुल टूट गए हैं। मौसम विभाग ने प्रदेश के छह जिलों में रेड अलर्ट जारी किया है। मंडी, कांगड़ा, शिमला, सोलन, सिरमौर व बिलासपुर में भारी बारिश हो सकती है।

पांच जिलों में orange अलर्ट जारी किया है। जिला मंडी में ब्‍यास अपना रौद्र रूप दिखा रही है। ब्‍यास में आई बाढ़ में पंचवक्‍त्र मंदिर डूब गया है व कई वाहन नदी के तेज बहाव में समा गए हैं।

बिलासपुर जिला के कठलग गांव में जमीन धंसने से सात घर जमींदोज हो गए हैं। गनीमत रही कि ग्रामीणों को जमीन धंसने का आभास हो गया, अन्‍यथा भारी जानी नुकसान हो सकता था।

सभी लोगों ने आध्‍ाी रात को भागकर जान बचाई। ऊना जिला के संतोषगढ़ में घरों व अस्‍पताल में बारिश का पानी भर गया है। चंबा जिला का संपर्क शेष दुनिया से कटा हुआ है।

कुल्‍लू का संपर्क भी आधी रात से कट गया है। चंबा व कुल्‍लू में किसी भी तरह के जरूरी सामान की सप्‍लाई नहीं हो पाई है।

घर मलबे में दबने से दादा-पोती की हुई मौत

जिला चंबा के मैहला विकास खंड की बंदला पंचायत में मकान की दीवार गिरने से मलबे में दबकर दादा-पोती की मौत हो गई।

मृतकों की पहचान 80 वर्षीय कंठ और 8 वर्षीय पल्‍लवी के तौर पर की गई है l घटना की सूचना मिलते ही पुलिस राजस्व विभाग व दमकल विभाग की टीम मौके को रवाना हो गई हैl पंचायत उप प्रधान ने हादसे की पुष्टि की है।

बता दें बारिश के चलते ब्यास और पार्वती नदी का जलस्तर काफी बढ़ा हुआ है, जिससे लारजी और पंडोह डैम से आज रात 12 से 2 बजे के बीच पानी छोड़ा जाएगा. यही कारण है कि प्रशासन ने नदी के किनारे रह रहे लोगों को अलर्ट जारी करते हुए घर खाली करने को कहा है. इसके साथ ही प्रशासन ने आपदा के लिए इमरजेंसी नंबर 1077 भी जारी किया है, जिस पर आपदा प्रभावित लोगों को संपर्क करने के लिए कहा गया है.

वहीं लाहौल स्पीति में NH-3 के बाधित हो जाने के कारण कोकसर से ग्रांफू तक वाहन फंसे हुए हैं और मनाली-केलंग के बीच कोकसर के पास नाले में बाढ़ आ जाने के कारण यहां भी दोनों तरफ काफी वाहन फंसे हैं. मिली जानकारी के मुताबिक कोकसर और ग्रम्फू के बीच एनएच-3 पर 450 से भी अधिक लोग फंसे हुए थे.

मंडी जिले के बालीचोकी क्षेत्र में भी सड़क का कुछ हिस्सा क्षेत्र में लगातार बारिश के कारण क्षतिग्रस्त हो गया, जिससे लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.