Connect with us

विशेष

22 साल के मजदूर से हुआ 35 साल की महिला को प्यार..शादी के लिए लड़के के परिवार को दिए 20 लाख

Published

on

कहा जाता है कि प्यार की कोई सीमा नहीं होती, न ही इसमें कोई बंदिश मायने रखती है। कुछ ऐसा ही कुछ हिमाचल प्रदेश में हुआ है। जहां एक तुर्की की महिला को अपना प्यार सात समुंदर पार भारत में मिला। तो वह अपना सब कुछ छोड़ कर भारत की ही होकर रह गई।

तुर्की के इंस्ताबुल की रहने वाली हेजल की कहानी सोशल मीडिया में खासी हिट हो रही है। इस प्रेम कहानी के चर्चे इन दिनों चारों ओर हैं। हेजल को लेकर चल रही चर्चाओं के बीच यह प्रेम कहानी एक मिसाल बनकर उभरी है। तुर्की महिला हेजल टूरिस्ट वीजा पर भारत आई थी। कि वह दिल्ली, धर्मशाला घूमने के बाद चंबा जिला के डलहौजी पहुंची, तो वहां एक स्थानीय युवक से उसकी मुलाकात हो गई। मुलाकात धीरे धीरे प्यार में बदली, तो इस प्रेम कहानी को लेकर खूब चर्चे होने लगे।

हेजल वापस अपने वतन लौटी, तो उसका संबध अपने प्रेमी से बरकरार रहा। आखिकर वो अपने प्‍यार से ज्‍यादा दिन दूर नहीं रह पाई और अपना सबकुछ छोड़छाड़ कर भारत वापस आ गई। वापस आकर उसने अपना आशियाना अपने प्रेमी के साथ बसाने का मन बना लिया। लड़के का परिवार गरीब है तो महिला ने उन्हें 20 लाख रुपए दिए ताकि वो भी बेहतर जिंदगी जी सकें।

आज हेजल अपने प्रेमी सूरज के साथ डलहौजी में हंसी खुशी से रह रही है। हेजल का मानना है कि भारतीय पति रिश्‍तों के मामले में अधिक विश्‍वसनीय हैं। यही वजह है कि वह अपनी बची जिंदगी भारत में ही बसर करने का मन बना चुकी है। गौरतलब है कि हेजल के प्रेमीसूरज डलहौजी के एक होटल में हेल्पर की नौकरी के साथ साथ स्थानीय स्कूल में कराटे सिखाता था। पर आज उसकी तकदीर बदल गई है। पृथ्वी भी अपने प्यार के साथ खुश है। उसका कहना है कि वह हेजल के साथ ही अपनी बाकी बची जिंदगी बिताएगा। हेजल ने अपनी प्रेम कहानी को सोशल मिडिया में शेयर करते हुये अपने प्रेमीसूरज की तस्वीरों के साथ शेयर की है। हेजल ने बाकायदा अपने शरीर पर अपने प्रेमी के नाम का टैटू बनवाया है। जिसमें पृथ्‍वी लिखा है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *