Connect with us

विशेष

32 साल की किरण देवी बनीं देश की सबसे बेहतरीन सरपंच…सबसे अलग है इनके काम करने का तरीका

Published

on

हेलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का एक बार फिर से हमारे वेब पोर्टल में दोस्तों भारत के पाँच राज्यों में 2018 विधानसभा चुनाव चल रहे है जिसमे से राजस्थान में 7 दिसम्बर की मतदान और 11 दिसम्बर को मतगणना है। दोस्तों चुनाव के बाद जीते हुए प्रत्याशी पुराने विधायकों को अलग कर देते है पर दोस्तों आज हम आपको मिलवाते है एक ऐसी महिला से जो सरपंच है और आज भी यदि गांव के विकास के फैसले की बात 7 पुराने सरपंचों के साथ मिलकर ही सुनाती है क्योंकि यह महिला सरपंच सातों पुराने सरपंच से सलाह मशविरा करके ही सारे फैसले लेती है और राय जरूर लेती है। दोस्तों अपनी इन्ही खासियतों की वजह से ये महिला सरपंच देश की सबसे अलग अनूठी सरपंचों में से एक है।तो चलिये जानते है आगे की पूरी जानकारी को।

दोस्तों आइए बताते है इस महिला सरपंच की खासियतों के बारे में।

दोस्तों इस महिला सरपंच के नाम किरण देवी है।

दोस्तों राजस्थान में सीकर जिले की झीगर छोटी की की सरपंच है।

दोस्तों झीगर छोटी में वर्ष 1960 से लेकर अब तक चुने गए सरपंचों में से सात पुराने सरपंच अभी भी जिंदा है क्यों दोस्तों है ना हैरान कर देने वाली बात।

दोस्तों अब हम आपको एक खास बात बता दे कि किरण बेदी अकेले अभी भी कोई फैसला नही लेती है।

दोस्तों अभी भी किरण देवी कोई फैसला लेती है तो उन सातों सरपंचों की राय लेकर ही लेती है।

दोस्तों किरण देवी को यदि गांव के विकास के लिए फैसला लेना होता है तो उन सातों सरपंचों से सलाह और राय लेकर ही करती है आज तक अकेले कोई भी फैसला नही किया है।

दोस्तों झीगर छोटी ही एक ऐसी जगह है शायद जहाँ आज भी कुछ पीढ़ी के सातों सरपंच बचे हुए है। और कहा जाता है यह दुनिया की पहली ऐसी जगह है जहाँ पर वर्तमान सरपंच और पूर्व सरपंच आज भी है।

दोस्तों 32 वर्षीय किरण देवी आज भी 89 साल के सरपंच मांगीलाल से आज भी राय लेती है।

इसलिए दोस्तों कहा जाता है कि झीगर छोटी में आज तक सौहार्द नही बिगड़ा।

दोस्तों गांव झीगर छोटी के महिपाल छाब्बरवाल, मनोज सवेदा, मनोज जैन, दिनेश सवेदा, विनोद छाब्बरवाल, व आदित्य झीगर आदि का मानना है कि वे पूर्व सरपंचो और वर्तमान सरपंच को अभी तक अपने पास पाकर काफी उत्साहित है। दोस्तों 1960 से यहां पर पंचायत चुनाव शुरू हुए थे तब से अभी तक जो भी सरपंच है वो सब है जैसे मैं आप सबको उनका नाम बताता हूं मोती राम ओला, नथमल जैन, मांगीलाल, ओम प्रकाश झीगर, कमला देवी, बीरबल सिंह, सुखदेवा राम, और इनके बाद किरणदेवी है जो वर्तमान समय की सरपंच है। दोस्तों ये आज भी कोई भी फैसला लेना होता है तो सातों सरपंचों की राय और सलाह जरूर लेती है चाहे वह विकास हो या कुछ और बिना सलाह लिए ये कोई फैसला नही लेती है।तो दोस्तों आज की ये जानकारी आपको कैसी लगी हमे अपनी राय कमेंट बॉक्स में जरूर दे ताकि हम आपको और भी रोचक जानकारियां दे सके धन्यवाद।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *