Connect with us

विशेष

7 साल की मासूम से है वानियत की हदें पार, दोनों टांगें तो ड़ी, प्राइवेट पार्ट को किया डै मेज, डॉक्टरों को निकालना पड़ा यूट्रस

Published

on

पंजाब के कपूरथला में एक सात साल की बच्ची के साथ दु ष्कर्म का मामला सामने आया था, जिसमें मासूम के साथ है वानियत की सारी हदें पार कर दी गईं थी. यह मामला एकदम दिल्ली की निर्भया कांड जैसा है, जिसमें दरिंदे ने न केवल बच्ची के प्राइवेट पार्ट को नुकसान पहुंचाया, बल्कि उसकी टांगें तो ड़ दी और ग ला घोटने की कोशिश भी की.

बच्ची के चीखने के चलते आसपास के लोग दौड़कर पहुंचे थे, जिन्होंने आ रोपी की जमकर पि टाई कर दी थी और पुलिस के ह वाले कर दिया था. इस समय बच्ची का इलाज पीजीआई में चल रहा है. मामला 15 मार्च का है.

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक, मासूम की मां का कहना है कि उसकी बेटी कई घंटे के बाद हो श में आई थी. जैसे ही उसे हो श आया तो उसने सबसे पहले कहा कि अंकल ने उसके साथ बहुत गं दा काम किया है. अब जब भी वह सोकर उठती है तो पूछती है कि पापा मैं कब तक ठीक हो जाऊंगी. पीडिता के पिता ने कहा है कि उसके बेटी की सर्जरी होनी वाली है और इसके लिए उसे पैसे चाहिए लेकिन उसके पास पैसे नहीं हैं.

निकालना पड़ा बच्ची का यूट्रस

रिपोर्ट में बताया गया है कि पीजीआई के सीनियर यूरोलॉजिस्ट ने कहा है कि बच्ची का यूट्रस निकाल दिया गया है और वह कभी मां नहीं बन पाएगी. यूरीन और मलद्वार का रास्ता बंद है. पेट में चो टें लगी हुई हैं, जिसके चलते पेट में तेज दर्द उठता है. साथ ही साथ इन्फेक्शन का खतरा रहता है. बच्ची की हालत सुधरने में अभी समय लगेगा.

आ रोपी ने दिया था बिस्कुट का लालच

आरो पी इस समय जेल में है और पुलिस ने उसके खिलाफ विभिन्न धाराओं में 376, 307 व 4 पॉस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है. वह सुल्तानपुर लोधी मार्ग के गांव हुसैनपुर में बनी झुग्गियों में रहने वाला है. उसने जिस समय इस घिनौनी वा रदात को अंजाम दिया, उस समय पीड़िता के माता-पिता काम पर गए हुए थे. उसने मासूम को बिस्कुट का पैकेट देने का लालच दिया था.

इस मामले पर डीएसपी सरवन सिंह बल ने बताया था कि बच्ची के पिता का कहना है कि वह बहुत गरीब हैं और मेहनत मजदूरी का काम करते हैं. उनके पांच बच्चे हैं, जिसने तीन लड़कियां हैं और ये सबसे छोटी लड़की है.

Continue Reading
Advertisement