Connect with us

लाइफ स्टाइल

MBA और CA के बाद इन दोस्तों ने नौकरी ठुकराकर शुरू किया फूल की खेती, खूब हो रही है कमाई

Published

on

रंग बिरंगे फूल हर किसी को बेहद पसंद आते हैं.. यही फूल अगर व्यवसाय बन जाए तो कैसा रहेगा.. जी, जयपुर और दिल्ली की रहने वाली दो दोस्त फूलों की कमाई से लाखों की कमाई कर रहीं हैं। वर्तमान में हमारे देश में फ्लोरिकल्चर इंडस्ट्री काफ़ी तेजी से बढ़ रही है।

23 वर्षीय शिवानी माहेश्वरी (Shivani Maheshwari) जयपुर (Jaypur) से ताल्लुक रखतीं हैं और इनकी दोस्त 25 वर्षीय वामिका बेहती (Vamika behti) दिल्ली (Delhi) से। ये दोनों दोस्त हरियाणा में फूलों की खेती कर इसमें सफलता प्राप्त कर रही हैं। शिवानी MBA ग्रेजुएट हैं और वमिका चार्टड अकाउंटेंट। आइये जानतें हैं इन दोनों दोस्तों के सफलता की कहानी….

Quits job to start flower farming

आया फूलों की खेती करने का आईडिया

वर्ष 2015 में शिवानी के मन में खुद का व्यपार शुरू करने का ख्याल आया और इन्होंने निश्चय किया कि ये फूलों का व्यवसाय करेंगी। जब रोहतक से दिल्ली जा रहीं थी इस दौरान इन्हें एक पॉलीहाउस फार्मिंग नेट देखने को मिला। इन्होंने वहां की बहुत सारी तस्वीरें अपने कैमरे में कैद कर ली। अपने घर आकर वह सोशल नेटवर्किंग साइट की मदद से किस तरह फूलों का व्यवसाय करें, यह जानकारी इकट्ठा करने लगी।

वामिका से हुई मुलाकात

शिवानी की मुलाकात वामिका से हुई। फिर क्या.. इन दोनों ने दोस्तों ने व्यवसाय में अपनी किस्मत आजमाने का निश्चय किया और अपने कार्य का श्री गणेश किया। हरियाणा तो खेती के लिए मशहूर है ही, इसलिए इन्हें खेती से जुड़ी हर जानकारी मिल गई। यहां से मिली जानकारी के कारण इन्हें अपने कार्य मे बहुत ही सहायता मिली।

फार्म हाउस का हुआ शुभारंभ

वामिका के पास इनकी कुछ खाली जमीन थी जहां इन्होंने अपना फार्म खोला। इस फार्म हाउस का नाम “यूनिस्टार एग्रो” रखा गया। यहां लिलियम, गुलाब, ग्लेडियोलस, जरबेरा और रजनीगंधा पुष्प के पौधें लगाएं। इन्होंने फूलों की खेती में सफलता प्राप्त की।

Quits job to start flower farming

वामिका के पति का मिला सहयोग

ये दोनों शिक्षित है जिस कारण इन्हें अपने शिक्षा का प्रयोग इस खेती में किया। वामिका के पति एक बिजनेसमैन हैं और वह वामिका की बहुत मदद करतें हैं। ऑर्गेनिक खेती के माध्यम से अन्य किसानों को जोड़कर उन्हें किस तरह ऑर्गेनिक खेती की जाए, वामिका ये सारी बातें सिखातीं हैं। इन्हें हरियाणा सरकार का सहयोग भी मिलता है। आज ये दोनों दोस्त सफलता की सीढ़ी चढ़ रहीं हैं और अगर अवसर मिले तो अपना व्यपार विदेशों तक फैलाना चाहतीं हैं।

अपने शिक्षा का सही प्रयोग कर फूलों की खेती कर अधिक लाभ कमाने के लिए Magzian शिवानी और वामिका को बधाई देता है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *