Connect with us

टैकनोलजी

Coronavirus से लड़ने के लिए Arogya Setu App करें डाउनलोड, 2.1 करोड़ लोग कर रहे हैं यूज

Published

on

नई दिल्ली। भारत सरकार ने coronavirus के लिए खिलाफ जंग शुरू कर दी है। यही वजह है कि सरकार कोरोना को मात देने के लिए हर तरह का प्रयास कर रही है जिससे की कोरोना को हार और भारतीयों को जीत हासिल हो सके। इसकी के तहत केंद्र सरकार ने डिजिटल प्लेटफॉर्म का सहारा लिया और Arogya Setu App को यूजर्स की रक्षा के लिए लॉन्च किया। अभी तक इस ऐप को करीब 2.1 करोड़ से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है, लेकिन सरकार का लक्ष्य है कि ये हर भारतीय के स्मार्टफोन में डाउनलोड हो, जिससे की कोरोनावायरस के संपर्क में जाने से उन्हें रोका जा सके।

सरकार ने की ऐप डाउनलोड करने की अपील

इस ऐप को लोगों तक पहुंचाने और जागरुक करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गृह मंत्री अमित शाह, सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद और रेल मंत्री पीयूष गोयल के साथ ऐप डेवलपर्स की उच्च स्तरीय बैठक की और इसके बाद प्रधानमंत्री और केंद्रीय मंत्रियों ने ऐप के बारे में बताते हुए इसे अपने अकाउंट पर ट्वीट करते हुए छात्रों, शिक्षकों और कर्मचारियों व उनके परिवार वालों से ऐप को डाउनलोड करने की अपील की।

यहां क्लिक करके करें Download Arogya Setu

ऐप डेवलपर्स का कहना है कि ये ऐप तभी सटीक जानकारी देगा, जब इसे 50 फीसदी लोग डाउनलोड करेंगे। बता दें कि सरकार की ओर से ऐप को डाउनलोड करने का लगातार मैसेज भेजा जा रहा है। साथ ही मैसेज में लिंक भी साझा किया गया है, जिसे क्लिक करते ही डाउनलोड का ऑप्शन आपको दिखने लगेगा। इसके बाद डाउनलोड पर क्लिक करके ऐप को अपने फोन में लॉगिंन करके इससे कोरोनावायरस की जानकारी हासिल कर सकते हैं।

Covid-19 की फर्जी खबर फैलाने पर जाना पड़ेगा जेल, Facebook ने उठाया ये बड़ा कदम

Aarogya Setu App क्या है?

Aarogya Setu एक ट्रैकिंग ऐप है, जो स्मार्टफोन के लोकेशन डेटा और ब्लूटूथ के जरिए यूजर्स को जानकारी देगा है कि वो कोरोना वायरस से संक्रमित किसी व्यक्ति के संपर्क में आए थे या नहीं। इतना ही नहीं ये ऐप संक्रमित व्यक्ति के 6 फीट के दायरे में आने पर नोटिफाइ करता है और आपको अलर्ट करता है। साथ ही इस ऐप से ये पता लगा सकते हैं कि आपको कोरोनावायरस का कितना खतरा है। इस ऐप में यूजर्स की प्रिवेसी का पूरा ध्यान रखा गया है और आपके डेटा को किसी थर्ड पार्टी ऐप के साथ शेयर नहीं किया जाएगा। आरोग्य सेतु ऐप को हिंदी, अंग्रेजी और मराठी समेत 11 भाषाओं में पेश किया गया है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.