Connect with us

विशेष

‘पूरी रात सो नहीं सकी, भगवान से प्रार्थना करती रही’…बेंगलुरु में Covid वैक्सीन लगाने वाले नर्स ने बताया अनुभव

Published

on

नैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड न्यूरो साइंसेज (NIMHANS) में नर्सिंग ऑफिसर जेसिमा जलारमथी को शुक्रवार की रात में फोन आया, जिसमें उन्हें अगले दिन कोविड-19 वैक्सीन (Corona Vaccination) लगाने की जिम्मेदारी के लिए तैयार रहने को कहा गया। इसके बाद वह पूरी रात सो नहीं सकीं।

हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के साथ बात करते हुए जेसिमा ने कहा, ‘मैं पिछले 21 सालों से बतौर नर्स काम कर रही हूं। लेकिन यह एकदम अलग अनुभव रहाा। यह नई वैक्सीनेशन थी और मैं चिंतित थी। मैं पूरी रात सो नहीं सकी और भगवान से प्रार्थना करती रही।’

Covid 19 Vaccine : Seven Indian Pharma companies are trying to make Corona  Vaccine

पहल डोज NIMHANS के निदेशक डॉक्टर जी गुरुराज को दी गई। 46 वर्षीय नर्स जेसिमा ने कहा कि पहला इंजेक्शन देते समय वह घबराई हुई थी और कंपकपी जैसा एहसास हो रहा था। लेकिन फिर धीरे-धीरे मन से डर निकल गया।

NIMHANS में कुल 38 लोगों को इंजेक्शन देने वाली जेसिमा ने कहा, ‘मेरे सहयोगियों ने विश्वास फिर से हासिल करने में मदद की। इसके बाद मैं आराम से इंजेक्शन लगाने लगी।’ काम पूरा होने के बाद डॉक्टर गुरुराज ने जेसिमा की सराहना की।

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर

अपने अनुभव के बारे में जेसिमा ने कहा, ‘वैक्सीन शॉट देते समय बीते महीनों के सभी कोरोना केस मेरे सामने आ गए। मेरे कई सहयोगी इस संक्रमण की चपेट में आ गए थे और कुछ की मौत भी हो गई।’

वैक्‍सीन से कोरोना पर पहला प्रहार, जानें आपके राज्‍य में कितनों को लगा टीका

एम्स डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने लगावाई कोरोना वैक्सीन, कहा-वैक्सीन सुरक्षित

source NBT

 

 

 

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.