Connect with us

लाइफ स्टाइल

ये कोई एयरपोर्ट नहीं, देश का पहला AC रेलवे स्टेशन है! तस्वीरें यकीन दिलाने के लिए काफ़ी हैं

Published

on

पिछले कुछ समय में भारतीय रेल ने काफ़ी बदलाव किये हैं. इसी समय में देश के रेल नेटवर्क में कई नई ट्रेन जुड़ी, इनमें से कुछ सुविधाओं के मामले में विदेशी ट्रेन से भी बेहतर हैं. आलीशान सुविधाओं और नई टेक्नोलॉजी लैस ट्रेन के अलावा देश के रेलवे स्टेशन के नवीनीकरण पर भी काम चल रहा है. इसी समय में भारतीय रेलवे ने एक और कीर्तिमान अपने नाम किया है. देश का पहला पूरी तरह से AC टर्मिनल बनाया गया है, जिसे भारत के पहले सिविल इंजीनियर और भारत रत्न सम्मानित सर एम. विश्वेशवरैय्या के नाम से रखा गया है.

बेंगलुरु में निर्मित देश के पहले AC रेलवे टर्मिनल की तस्वीरें भी शानदार हैं:

First AC Railway Terminal

जल्द ही शुरू होने वाला है देश का पहला एसी टर्मिनल

First AC Railway Terminal

यह अपने देश का पहला सेंट्रलाइज्ड एसी रेलवे स्टेशन है

First AC Railway Terminal

यहां से 50 हज़ार लोगों तक की आवाजाही आसानी से हो सकेगी

First AC Railway Terminal

इस नए टर्मिनल में एक फुटओवर ब्रिज और दो सब-वे भी हैं. इसके अलावा इसमें एस्केलेटर्स और लिफ्ट्स की भी सुविधा है. वीआईपी लाउंज की भी व्यवस्था है, जहां यात्रा करने वाले अपनी ट्रेन का इंतजार कर सकते हैं.

First AC Railway Terminal

नए टर्मिनल में एक फुटओवर ब्रिज और दो सब-वे भी हैं

First AC Railway Terminal

314 करोड़ की लागत से बना ये टर्मिनल 4200 वर्ग मीटर में फैला है. यहां से रोज़ाना 50 ट्रेन चलती हैं.

First AC Railway Terminal

इसे बेंगलुरु अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट की तर्ज पर बनाया गया है. इसके शुरू होने के बाद लंबी दूरी की ज्यादा ट्रेनें चल सकेंगी.

First AC Railway Terminal

इसे फरवरी के अंत तक खोला जाना था, लेकिन कुछ समस्याओं के चलते इसमें देरी हुई है
उम्मीद है जल्द से जल्द यह बेंगलुरु में शुरू हो जाएगा.

First AC Railway Terminal

यहां एक शानदार फूड कोर्ट भी बनाया गया है,जहां लोग अपनी इच्छा का खाना और नाश्ता कर सकते हैं.

First AC Railway Terminal

इस टर्मिनल के खुलने के बाद से बेंग्लुरू के सभी जिलों को मुंबई, चेन्नई जैसे बड़े शहरों से जोड़ा जाएगा.

First AC Railway Terminal

अब जल्द से इसके खुलने का इंतज़ार रहेगा.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *