Connect with us

विशेष

कई लड़कों को अपना शिकार बना चुकी है कश्मीरी लड़की-शादी और सुहागरात के बाद दिखाती है असली चेहरा

Published

on

पैसों की ठगी के लिए जीवन साथी डॉट काम पर मुस्लिम से राजपूत बनी और शादी के बाद ससुराल से गहने व शगुन के पैसे लेकर गायब होने वाली महिला को पुलिस ने चंडीगढ़ से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस की जांच में सामने आया कि यह युवती पहले भी कई युवाओं को अपना शिकार बना चुकी है।

अनीशा को जम्मू एंड कश्मीर में रहने वाले उसके पिता अहमद मुश्ताक पहले ही बेदखल कर चुके हैं। शिकायतकर्ता राजेश कुमार भाटिया ने बताया कि अपने दुबई रहते बेटे की शादी के लिए उन्होंने जीवनसाथी डॉट काम पर प्रोफाइल बनाई थी। शादी के लिए आरोपी अनीशा राजपूत की रिक्वेस्ट आई। इसके बाद दोनों के बीच बातचीत भी शुरू हो गई। एनआरआई की एमबीबीएस दुल्हन घर से सारे जेवरात और नकदी लेकर फरार हो गई है।

सुहागरात पर पति ने पार की हदें, पत्नी के प्राइवेट पार्ट पर किया वार - Crime AajTak

पुलिस की ओर से थाना सी-डिवीजन में केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू की गई तो कई चौंकाने वाली बातें सामने आ रही हैं। अनीशा की ओर से पहले भी कई लोगों को अपना शिकार बनाया गया है। वह जम्मू-कश्मीर के उस इलाके की रहने वाली है जो आतंक का गढ़ है। इसके अलावा उसकी फेसबुक से शक जाहिर किया जा रहा है कि वह किसी आतंकी संगठन की सदस्य हो सकती हैं। फेसबुक पर उसके ज्यादातर फ्रैंड आतंकी हैं।

Raigarh : Double The Money By Swindle, Millions Fraud - दोगुने पैसे का झांसा देकर लाखों की ठगी | Patrika News

राजेश कुमार भाटिया निवासी सैक्टर-3 सी ब्लाक रंजीत एवेन्यू ने पुलिस को बताया कि उनका बेटा गोपाल किशन भाटिया दुबई में काम करता है। बेटे की शादी के लिए जीवन साथी डॉटकाम पर डाला था। इस कंपनी का कार्यालय जालंधर में है। उन्हें आनीशा राजपूत नाम की युवती ने रिक्वैस्ट डाली। अनीशा ने कहा कि वह एमबीबीएस डाक्टर की इंटरशिप कर रही है। अनीशा ने अपने पांच फोटोग्राफ भी प्रोफाइल के तौर पर डाले। उनके बेटे ने उन्हें फोन किया कि अनीशा राजपूत उनका घर देखना चाहती है।

अहमदाबाद में पैसे डबल करने का लालच देकर 260 करोड़ की ठगी, केस दर्ज

उनका बेटा दुबई से अमृतसर आया। अनीशा उनके घर आई और रात वहीं पर रुकी। अगले दिन वापस चली गई। उन्होंने अनीशा से कहा था कि वह अगर डाक्टर है तो किसी डाक्टर से शादी करे। मगर अनीशा ने कहा कि उसे डाक्टर का पेशा अच्छा नहीं लगा, इसलिए वह किसी ओर से शादी करना चाहती है। उसके पिता सजर्री के लिए विदेश गए हुए हैं। वह हिन्दु और राजपूत परिवार से है। केवल उसका परिवार ही जम्मू-कश्मीर में रहता है।

कुछ दिनों बाद उन्होंने दयानंद धाम आर्य समाज में अपने बेटे की धूमधाम से शादी की। शादी के 15 दिन बाद उनका बेटा वापस दुबई चला गया। दो दिन बाद अनीशा चंडीगढ़ जाने का कह कर घर से चली गई। बाद में वापस नहीं लौटी। अनीशा राजपूत उर्फ आनीशा भट्ट का मोबाइल फोन भी बंद आ रहा है। केवल इतना ही पता चला है कि वह जम्मू-कश्मीर की रहने वाली है। जाते समय घर से शादी के दौरान इक्कठा हुई शगुन की रकम, एक मंगल सूत्र, सोने और हीरे का पैंडल, दो सोने की अंगूठियां, दो हीरे की अंगूठियां, दो सैट सोने की बालियां और शादी के दौरान बनवाए गए कीमती कपड़े भी साथ ले गई है। थाना सी डिवीजन में केस दर्ज करने के बाद मामले की जांच क्राइम विभाग को सौंप दी गई है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.