Connect with us

विशेष

खौफनाक है पूरी कहानी, जानिए कैसे पत्नी ने रची साजिश, फिर बेटे ने पकड़े हाथ, प्रेमी ने उतारा मौत के घाट

Published

on

उत्तर प्रदेश के मेरठ में गंगानगर क्षेत्र के ललसाना गांव में 20 जनवरी को हुई राजमिस्त्री रिंकू उर्फ अरुण की ह त्या का पुलिस ने स नसनीखेज खु लासा कर दिया। ह त्या के आ रोप में रिंकू के बेटे जतिन, पत्नी रेखा और रेखा के प्रेमी नरेंद्र को गिर फ्तार किया। पुलिस ने ह त्या में प्रयुक्त दरांती भी बरामद की।

शुक्रवार को पुलिस लाइन में प्रेसवार्ता के दौरान सीओ सदर देहात पूनम सिरोही ने बताया कि 18 जनवरी की रात रिंकू ने डायल 112 पर चार बार कॉल की थी, लेकिन उसने कुछ स्पष्ट नहीं बताया। इस पर पुलिस को संदेह हुआ कि उस रात परिवार में बड़ा विवा द हुआ होगा। पत्नी रेखा से पूछताछ में ह त्या करना कबूल किया।

उसने बताया कि रिंकू शरा ब पीने का आदी था। घर खर्च के लिए पैसे नहीं देता था। मारपी ट करता था। डेढ़ साल पहले रेखा के सं बंध नरेंद्र से हो गए थे। पता चलने पर रिंकू ने कई बार नरेंद्र को समझाया। कई बार उनमें इसी बात को लेकर झ गड़ा भी हुआ था। 15 जनवरी की रात को रेखा ने बेटे जतिन, प्रेमी नरेंद्र के साथ मिलकर ह त्या की योजना बनाई।

महिला समेत आरोपी गिरफ्तार

बेटे ने हाथ पकड़े और पत्नी ने पैर

पूछताछ में पत्नी और बेटे ने बताया कि 20 तारीख की सुबह पांच बजे पत्नी ने रिंकू को जगाया। रिंकू शौच के लिए ट्यूबवेल पर पहुंचा। वहां नरेंद्र मिला। उसने श्मशान घाट की तरफ ले जाकर रिंकू को श राब पिलाई। इसी बीच रेखा और जतिन पहुंचे। महिला ने पहले पति को कई थ प्पड़ मा रे और कहा कि आज मारपी ट का पूरा बदला लिया जाएगा। जतिन ने पिता के दोनों हाथ पकड़े और रेखा ने पैर। इसके बाद नरेंद्र ने दरांती से ताबड़तो ड़ वा र किए।

पुलिस के अनुसार, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में धारदार हथि यार के 23 निशान मिले हैं। इसके बाद घर पहुंचे मां-बेटे राजमिस्त्री को तलाशने का ड्रामा करने लगे। मां बेटे के जेल जाने के बाद परिवार में तीन छोटी-छोटी बेटियां बची हैं।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *